कार लुटेरों का नहीं लगा सुराग, हुलिये और लूट में प्रयुक्त वाहन के आधार पर तलाश जारी

42

जोधपुर। नागौर रोड पर नेतड़ा-बावड़ी के बीच शुक्रवार को दिनदहाड़े कार लूटने के आरोपियों का शनिवार को दूसरे दिन भी कोई सुराग हाथ नहीं लगा। हालांकि लूटी गई कार लोहावट क्षेत्र में लावारिश हालत में मिल गई थी। पुलिस की नाकाबंदी और पकड़े जाने के डर से लुटेरे यह कार छोडक़र फरार हो गए थे। करवड़ पुलिस ने हुलिये और लूट में प्रयुक्त उनकी गाड़ी के आधार पर तलाश शुरू की है।

पुलिस ने बताया कि जगदीश पंवार पुत्र रामाराम शुक्रवार को दोपहर में एस्कोडा रेपिड कार में जोधपुर से नागौर जा रहा था। भवाद फांटा के पास पहुंचने पर उम्मेद नगर व खारी रोड से काले रंग की एक गेट वे आती दिखाई दी। यह देख जगदीश ने कार की रफ्तार धीमी कर ली। नेतड़ा से आगे निकलते ही गेट वे में सवार युवकों ने कार रोकने के लिए हाथ से इशारा किया। कार रुकते ही एक युवक गेट वे में से निकला व जगदीश को खींचकर कार से बाहर निकाल लिया। एक अन्य युवक कार में जा बैठा। इसके बाद दो युवक कार मालिक से मारपीट करने लगे। एक युवक देसी कट्टा दिखा उसको धमकाने लगा। कार चालक कुछ समझ पाता उससे पहले एक युवक उसकी कार और दो अन्य गेट-वे लेकर नागौर की तरफ भाग निकले। पुलिस ने लुटेरों के हुलिये व कार की पहचान के आधार पर नाकाबंदी करवाई। नाकाबंदी के दौरान कार लोहावट क्षेत्र में नजर आई। पुलिस ने उसका पीछा शुरू किया। तब लुटेरे पकड़े जाने के डर से कार को लावारिस छोडक़र भाग निकले। बताया गया है कि लुटेरों ने पहचान छिपाने के लिए नम्बर प्लेट पर कागज चिपका रखे थे। उनकी तलाश आज भी जारी रही।

.. इधर टैक्सी चालक का मोबाइल लूटा

बाइक पर सवार होकर आए कुछ लुटेरों ने एक टैक्सी चालक से उसका मोबाइल लूट लिया। इस संबंध में बासनी पुलिस थाना में रिपोर्ट दी गई है।

पुलिस ने बताया कि बासनी गांव में सरकारी स्कूल के पीछे रहने वाले शिवराज पुत्र सुगनाराम प्रजापत ने रिपोर्ट दी है कि वह टैक्सी लेकर ईएसआई अस्पताल बासनी के पास जा रहा था। इसी दौरान बाइक पर सवार होकर आए बदमाश उसके पास आए और उसका मोबाइल फोन छीनकर ले गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।