गणतंत्र दिवस पर दानह स्काउट गाइड के आजाद रोवर रेंजर्स ने प्रशासक एवं सांसद को दी सलामी

गणतंत्र दिवस पर दानह स्काउट गाइड के आजाद रोवर रेंजर्स ने प्रशासक एवं सांसद को दी सलामी | Kranti Bhaskar
संघ प्रदेश दादरा एवं नगर हवेली स्काउट गाइड के आजाद रोवर रेंजर्स द्वारा गणतंत्र दिवसर पर आयोजित अलग-अलग समारोह में प्रशासक एवं सांसद को सलामी दी गयी. जानकारी के अनुसार आलोक पब्लिक स्कूल के स्काउट गाइड पिछले वर्षों की तरह इस वर्ष भी गणतंत्र दिवस के परेड का प्रतिनिधित्व स्काउट दल के साहिल शाहू एवं गाइड दल का हंशिका जाजु ने किया. जिसमें सर्वप्रथम समाज कल्याण विभाग द्वारा पहली बार डॉ. एम.चितापुरे के दिशा-निर्देशन में उनकी पूरी टीम की सहायता से सिलवासा स्थित पी.डब्ल्यू.डी. परिसर में सुबह करीब साढ़े 9 बजे दानह सांसद नटू पटेल द्वारा ध्वजारोहण किया गया. यहां पर दानह आजाद रोवर रजत भूयान, मनीष मिश्रा, शैलेश प्रकाश वाघ, रेंजर्स प्रीति सिंह, अपूर्वा कुवनार कलर पार्टी की सलामी एवं समाज कल्याण विभाग के कार्यकर्ता द्वारा स्वागत सम्मान लेकर सांसद ने ध्वजारोहण किया. तत्पश्चात राष्ट्रगान के पश्चात दानह स्काउट गाइड के परेड की सलामी भी ली. इस कार्यक्रम में सांसद नटू पटेल ने अपने भाषण में दानह के विकास कार्यों में तेजी एवं मार्च तक में वाईफाई जोन बनाने पर जोर दिया जा रहा है. इसके बाद 10 बच्चों को दानह सांसद, नगरपालिका अध्यक्ष एवं उपस्थित अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया. इस उपलक्ष्य में नगरपालिका अध्यक्ष राकेश चौहान, अल्ताफ खुटलीवाला, सर्मिष्ठा देसाई, दानह स्काउट गाइड सचिव, उपाध्यक्ष यशमीन बाबुल, स्काउट मास्टर आलोक पब्लिक स्कूल के शालिम हिंगोरा, आशा शर्मा, अंजली सिंह, शीता लक्ष्मी, लायंस इंग्लिश स्कूल, स्काउट मास्टर आलोक झा, दानह रोवर प्रवीण प्रजापति, प्रभात मिश्रा, रेंजर स्नेहा राम, अंजली प्रसाद एवं अन्य लोग मौजूद थे.
इसके बाद सुबह करीब 11 बजे सिलवासा स्थित स्टेडियम ग्राउंड पर संघ प्रदेश दमण-दीव, दानह के प्रशासक प्रफुल पटेल द्वारा ध्वजारोहण करने एवं राष्ट्रगान के पश्चात उन्होंने सभी दल का निरीक्षण किया. इसके बाद दानह एवं दमण-दीव की एआईजीपी मेघना यादव, दानह समाहर्ता गौरव सिंह राजावत, दानह पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार मिश्रा ने दानह पुलिस जवान, आईआरबी जवान, अग्निशमन दल के जवान, एनसीसी दल एवं स्काउट गाइड के दल की सलामी ली एवं सभी के परेड के मार्च पास्ट को सराहा गया.