गौरक्षा मंच ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

बकरीद के दौरान गणेशोत्सव होने से गौवंश एवं भैंस की कत्ल पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की मांग
दमण, सं. गुरुवार को दमण जिला समाहर्ता उमेश कुमार त्यागी को एक ज्ञापन गौरक्षा मंच  दमण के प्रतिनिधियों ने सौंपा. जिसमें बताया गया है कि मुस्लिम एसोसिएशन दमण द्वारा बकरीद यानि आगामी १२, १३ एवं १४ सितम्बर-२०१६ इन तीन दिनों के लिए गौवंश एवं भैंस की कत्ल करने की मंजूरी मांगी गयी है. जिसका हमसभी गौरक्षा मंच दमण सख्त विरोध करती है. वह धर्म की आड़ में ऐसे मंजूरी की मांग कर रहे है तो उन्हें यह ज्ञात होना चाहिए कि इन दिनों में ही हिन्दु धर्म का गणेशोत्सव अपने चरम पर होगा. ऐसे समय में यदि मंजूरी दी गयी तो दमण में वर्षों से चली आ रही भाईचारा खंडि़त होने का बड़ा भय सता रहा है. ऐसे में ऐसा कुछ न हो इसके लिए मंजूरी नहीं देने का आग्रह भी किया मंच के प्रतिनिधियों ने किया है. दमण में जो भी कत्लखाना है उनके द्वारा लिखित में कहा गया है कि वह गौवंश की कत्ल न करें एवं ऐसे संयोग में जो उन्हें मंजूरी मिलेगी तो यह गैरकानूनी मानी जाएगी. इस बकरीद के त्यौहार के निमित्त बकरा का कत्ल किया जाता है इससे हमें कोई समस्या नहीं है लेकिन गौवंश एवं भैंस की कत्ल के लिए मंजूरी का कोई औचित्य नहीं है. गौरक्षा मंच दमण के मनोजभाई द्वारा सौंपे गये ज्ञापन में यह भी कहा गया है कि १ सितम्बर से लेकर आगामी १५ दिनों तक जैन पर्यामाषण, गणेशोत्सव के दौरान दमण में कोई अवांछित घटना न हो एवं कत्लखाना में कोई गैरकानूनी रूप से गौवंश एवं भैंस की कत्ल न हो इसके लिए पुलिस, प्रशासन, गौरक्षा मंच मिलकर एक टीम दमण में स्थित कत्लखाना के सामने तैनात किया जाएगा.