चालान काटने पर निजी एंबुलेंस चालक उतरे हड़ताल पर, पुलिस को मिली थी कई शिकायतें

35

जोधपुर। पुलिस की आेर से अंधाधुंध चालान काटने पर निजी एंबुलेंस चालक हड़ताल पर उतर गए। इन चालकों ने पुलिस पर बेवजह परेशान करने का आरोप लगाया है। उधर पुलिस का कहना है कि इन निजी एंबुलेंसों के खिलाफ शिकायतें मिलने पर पुलिस ने कार्रवाई की है।

दरअसल सरकारी और निजी अस्पतालों के बाहर बड़ी संख्या में निजी एंबुलेंस खड़ी रहती है जो मनमाने तरीके से मरीजों और उनके परिजनों से किराया वसूलती है। ये एंबुलेंस अस्पतालों के बाहर बेतरतीब रूप से खड़ी रहती है जिससे यहां यातायात व्यवस्था भी प्रभावित होती है। पुलिस ने इस तरह की शिकायतें मिलने के बाद शुक्रवार को निजी एंबुलेंसों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया। अभियान के दौरान इन एंबुलेंसों व चालकों के कागजात जांचें गए। कागजात पूरे नहीं होने व यातायात नियमों का पालन नहीं करने पर कई चालकों के चालान काटे गए। साथ ही कई गाडिय़ां भी सीज की गई।

महात्मा गांधी के बाहर और मथुरादास माथुर अस्पताल की पेड पार्किंग में खड़ी एम्बुलेसों के चालान काटने और उन्हें सीज करने के बाद चालकों ने अपनी गाडिय़ां एमडीएम अस्पताल के बाहर खड़ी कर दी और जोधपुर निजी एम्बुलेंस एसोसिएशन के आह्वान पर हड़ताल पर चले गए। शनिवार सुबह एमडीएमएच मोर्चरी से शव ले जाने के लिए टैक्सी परमिट व दूसरी गाडिय़ां आने पर उन्होंने विरोध प्रदर्शन भी किया। बाद में एम्बूलेंस चालक एकत्रित होकर धरने पर बैठ गए।