जालोर शहर की रामपुरा कॉलोनी वार्ड सं. 3 में कर्फ्यू आदेश

0
40

जालोर 25 जून। उपखंड मजिस्ट्रेट चम्पालाल जीनगर ने जालोर शहर की रामपुरा कॉलोना वार्ड सं. 3 में कोरोना संक्रमित व्यक्ति् मिलने से महामारी के संक्रमण को फैलने से रोकने एवं मानवीय जीवन की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए उक्त वार्ड में सुरेश कुमार माली के घर से हिन्दूराम घांची के मकान तक क्षेत्र में कर्फ्यू के आदेश जारी किये हैं।

इसके तहत उक्त प्रभावित क्षेत्र में निवासरत सभी व्यक्ति अपने घर से बाहर आवागमन नहीं कर सकेंगे। इस क्षेत्र को जीरो मोबिलिटी क्षेत्र घोषित कर लॉकिंग एरिया में जन साधारण के आगमन-निर्गमन के लिए प्रतिबंधित किया गया है। उक्त क्षेत्र में स्थित समस्त व्यावसायिक दुकानें बंद रहेंगी।

उक्त सीमारत निवासियों का उनके घर पर आवश्यक सामग्री, खाद्यान्न, सब्जी, दूध डेयरी, फल-सब्जी वितरण की व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर दी गई हैं।

उपरोक्त क्षेत्र में अवस्थित चिकित्सीय सेवाओं को छोड़कर अन्य समस्त वाणिज्यिक, व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे तथा समस्त सामूहिक गतिविधियां रैली, जुलूस, सभा एवं समारोह इत्यादि पूर्णतया प्रतिबंधित रहेंगे।

व्यावसायिक, व्यापारिक प्रतिष्ठानों में दैनिक आवश्यकताओं से संबंधित किराणा एवं जनरल स्टोर इत्यादि एवं सब्जी मंडी आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे। उक्त क्षेत्रों में समस्त प्रकार के वाहनों के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। आवश्यक व्यवस्थायें बनाए रखने हेतु आवश्यकतानुसार राजकीय अधिकारी व कर्मचारियों के आवागमन के साधन उपयोग में लिये जाने हेतु अधिकृत होंगे। नगरपरिषद व्यवस्था से जुड़े वाहन, अग्निशमन वाहन, जलदाय, विद्युत, पुलिस एवं प्रशासन, चिकित्सकीय सेवाओं एवं रसद विभाग एवं अन्य आवश्यक सेवाओं से संबंधित अनुमति प्राप्त वाहन प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

पुलिस विभाग द्वारा निर्धारित एंट्री पोईन्ट्स पर चिकित्सा विभाग द्वारा टीम नियुक्त की जायेगी, जिसके द्वारा यह सुनिश्चित किया जायेगा कि बिना स्क्रीनिंग के कोई भी व्यक्ति उक्त क्षेत्र में प्रवेश नहीं करे और न ही उक्त क्षेत्र से बाहर निकले। यह प्रतिबंध बीमार व्यक्तियों एवं चिकित्सा संबंधी आपात स्थिति से प्रभावित व्यक्तियों पर लागू नहीं होगा। क्षेत्र के समस्त चिकित्सालय एवं चिकित्सा सेवाओं से जुड़े व्यक्ति व संस्थान उक्त प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

उपखंड मजिस्ट्रेट ने उक्त कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्रों के सभी निवासियों को आदेशों की पालना करने हेतु पाबंद किया है साथ ही सावचेत भी किया है कि यदि कोई व्यक्ति उपरोक्त प्रतिबंधात्मक आदेशों का उल्लंघन करेगा तो वह भारतीय दंड संहिता की धारा 188, 269, 270 एवं राजस्थान महामारी अधिनियम 1957 तथा आपदा प्रबन्धन अधिनियम 2005 के सुसंगत विधित प्रावधानों के अन्तर्गत अभियोजित किया जा सकेगा। यह आदेश तुरन्त प्रभाव से आगामी आदेश तक प्रभावशील रहेगा।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here