जोधपुर के रोडवेज कर्मचारियों ने फूंका मुख्यमंत्री का पुतला

12

जोधपुर। रोडवेज कर्मचारियों ने विभिन्न मांगों और श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ गुरुवार को प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का पुतला फूंका। यह प्रदर्शन राजस्थान रोडवेज के श्रमिक संगठनों के संयुक्त मोर्चे के तत्वावधान में किया गया।

रोडवेज कर्मचारी नेता धर्मवीर चौधरी और किशनसिंह राठौड़ ने बताया कि गत वर्ष सरकार ने संयुक्त मोर्चे के साथ समय पर वेतन व पेंशन भुगतान का समझौता किया था लेकिन अभी तक रोडवेज कर्मियों को समय पर वेतन प्राप्त नहीं हो रहा है। वहीं पेंशनभोगी भी पेंशन के लिए विभाग के चक्कर काट रहे है। रोडवेज कर्मी महंगाई भत्ते में वृद्धि करने,बकाया राशि का भुगतान करने पिछले दो साल का बकाया बोनस देनेसातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के आधार पर वेतन-भत्तों में संशोधन करनेअवैध बसों के संचालन पर रोक लगानेरोडवेज में नई बसें लेनेरिक्त पदों पर भर्ती करने आदि मांगों को लेकर आंदोलनरत् है।

आंदोलन के तहत गत माह पूरे प्रदेश में धरने आयोजित किए गए थे। इसी कड़ी में गुरुवार को दोपहर में राज्य सरकार और रोडवेज प्रबंधन की रोडवेज विरोधी-श्रमिक विरोधी नीतियों व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुतले जलाए गए।