जोधपुर रेड जोन में, नहीं मिलेगी लॉकडाउन से राहत

जोधपुर। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देशभर में जारी है। इस बीच शुक्रवार को शहरवासियों के लिए बुरी खबर आई है। शहर में निरंतर बढ़ रहे कोरोना संक्रमितों के बीच जोधपुर रेड जोन एरिया में शामिल हुआ है। यहां पर फिलहाल लॉकडाउन से मुक्ति मिलना संभव नहीं लग रहा है। केंद्र सरकार स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी की गई इस सूची में जोधपुर को रेड जोन में शामिल किया गया है। ऐसे में लॉकडाउन खुलने की आस लगाए बैठे लोगों को निराशा हाथ लगी है। इसके साथ राजस्थान के सात अन्य जिले भी रेड जोन में आ गए है। 19 जिले ऑरेंज व 6 को ग्रीन जिला जोन मिला है।

ये भी पढ़ें-  विकासखण्ड राजनगर के प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केन्द्र बसारी में बेचिंग मैचिंग कैम्प का हुआ आयोजन

सनद रहे कि देश भर में लॉकडाउन का दूसरा चरण चल रहा है जो 3 मई को समाप्त होगा। करीबन डेढ़ माह तक अपने घरों में कैद लोग आजादी चाह रहे है लेकिन फिलहाल यह संभव नहीं लग रहा है। सरकार कोरोना संक्रमणों की संख्या के आधार पर राज्यों को छूट दे सकती है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश के राज्यों के अलग-अलग जिलों को रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन में बांटा है। मंत्रालय ने कोरोना मामलों की संख्या, डबलिंग रेट और टेस्ट के हिसाब से जिलों की नई सूची बनाई है। जोधपुर शहर में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा तो निरंतर बढ़ ही रहा है साथ ही प्रदेश के अन्य जिलों में भी कहर चल रहा है। जोधपुर शहर में कोरोना संक्रमण से आठ लोग जान गवां चुके है।

ये भी पढ़ें-  जोधपुर में लॉकडाउन में अप्रवासी लोगों की उमड़ी रोडवेज बस स्टैंड पर भीड़

प्रदेश के जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, भरतपुर, नागौर, बांसवाडा और झालावाड रेड जोन में चिन्हित किए गए है। वहीं टोंक, जैसलमेर, दौसा, झुंझुनूं, हनुमानगगढ, भीलवाडा, सवाई माधोपुर, चित्तौडगढ, डूंगरपुर, उदयपुर, धौलपुर,सीकर,अलवर, बीकानेर, चूरू, पाली, बाडमेर, करौली और राजसमंद को ऑरेंज जोन में रखा गया है जबकि बारां, बूंदी, गंगानगर, जालौर, सिरोही, प्रतापगढ ग्रीन जोन में शामिल किए गए है।