डीयू : ओपन बुक परीक्षा के विरोध में सड़क पर उतरे छात्र, एफआईआर

0
28

डीयू में तृतीय वर्ष के अंतिम सेमेस्टर के छात्र ओपन बुक परीक्षा के विरोध में सड़क पर उतर आए। मॉरिस नगर थाना पुलिस ने छात्रों के खिलाफ धारा 188 के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है।

डीयू प्रशासन 1 जुलाई से रेगुलर, नॉन कॉलेजिएट, वुमन एजुकेशन बोर्ड और स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग के छात्रों की ओपन बुक परीक्षा कराने जा रहा है। डीयू ने इसकी घोषणा की है, तभी से ही इसका विरोध हो रहा है। सोमवार को डीयू नॉर्थ कैंपस में ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन, क्रांतिकारी युवा संगठन और शिक्षकों ने ओपन बुक परीक्षा का विरोध किया। प्रदर्शनकारी छात्रों का कहना है कि यह भेदभावपूर्ण प्रक्रिया है, क्योंकि सभी छात्रों के पास संसाधन नहीं हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय शिक्षक संघ के सर्वे में भी 85 फीसदी छात्रों ने यह माना कि वे इस समय विभिन्न कारणों से ऑनलाइन परीक्षा नहीं दे सकते हैं।

केवाईएस के पदाधिकारी हरीश गौतम का कहना है कि छात्रों की परेशानियों के बावजूद विश्वविद्यालय प्रशासन पूरी तरह से उदासीन बना हुआ है। डीयू द्वारा जारी दिशा-निर्देश इस बात की गवाही हैं। डीयू प्रशासन के अनुसार, जो छात्र ऑनलाइन परीक्षा में नहीं बैठ पाएंगे, उनके लिए परंपरागत तरीके से बाद में परीक्षाएं कराई जाएंगी, जिसके बारे में उन्हें सितंबर में सूचित किया जाएगा। इस तरह से अलग-अलग पद्धति द्वारा छात्रों का मूल्यांकन करने से सभी के लिए समान मापदंड का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है, बल्कि छात्रों को समानता के अवसर के भी वंचित किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here