दमन दीव विधुत विभाग के निगमीकरण एवं गुजरात विलय के खिलाफ हज़ारो की संख्या में जनता आई सड़कों पर…

दमन दीव विधुत विभाग के निगमीकरण एवं गुजरात विलय के खिलाफ हज़ारो की संख्या में जनता आई सड़कों पर... | Kranti Bhaskar
Daman News

प्रशासन द्वारा दमण-दीव विद्युत विभाग के निगमीकरण तथा दमन-दीव के गुजरात में विलय पर दमण की जनता ने स्वयंभू बंद रखकर प्रचंड जनादेश प्रशासन के फैसले के खिलाफ दिया है। लगभग सुबह 9.00 बजे से नानी दमण एवं मोटी दमण राजीव गांधी सेतु के दोनों तरफ दमन की जनता इकठ्ठा होना शुरु हो गई इसके बाद नानी दमण के साथ-साथ मोटी दमण से भी जन सैलाब इकठ्ठा होने लगा और भारत माता की जय के साथ दमण-दीव जिंदाबाद के जयघोष गूंजने लगे इसी जयघोष के साथ जनता एक विशाल रैली का रूप लेकर दिलीप नगर ग्राउंड पहुंची।

ये भी पढ़ें-  एशिया की प्रथम म्युनिसिपल को सत्ता महत्वकांशीयों ने बनाया मज़ाक।

इसके बाद इस विशाल जन समूह को उमेश पटेल की केडर के खुर्शीद मांजरा, उदय पटेल, नवीन पटेल सहित के युवाओं ने उपस्थित रहने के लिए सभी का आभार माना। खुर्शीद मांजरा ने जनता को उमेश पटेल का संदेश पढकर भी सुनाया। सभा को नवीन पटेल एवं उदय पटेल ने भी संबोधित किया इस अवसर पर दमण-दीव कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल भी युवाओं के साथ पहुंचे, लेकिन दमन-दीव भाजपा की और से कोई बड़ा नेता जनता के इस फैसले के साथ खड़ा नहीं दिखाई दिया। दमन-दीव विधुत विभाग के निगमीकरण एवं दमन-दीव के गुजरात में विलय पर, दमन की जनता ने शांतिपूर्ण तरीके से दमन बंद रखकर, दमन-दीव प्रशासन के साथ साथ केंद्रीय प्रशासन को भी यह साफ संकेत दे दिया है की दमन-दीव की जनता क्या चाहती है।