दमन में सरकारी केनल पर बन गई इमारत और प्रशासन देखती रही!

दमन में सरकारी केनल पर बन गई इमारत और प्रशासन देखती रही! | Kranti Bhaskar
Daman News

 

संध प्रदेश दमन में अभी भी ऐसे कई अवैध निर्माण बताए जाते है जिनकी जानकारी प्रशासन को है लेकिन कार्यवाही सालो से नहीं हुई, क्रांति भास्कर के पास भी एक ऐसा ही मामला सामने आया है। नानी दमन क्षेत्र के निवासी खाल्पाभाई पटेल द्वारा दिनांक 26-12-2014 तथा 20-04-2015 को गृह मंत्रालय में पत्र लिखकर अवैध निर्माण संबधित एक शिकायत की गई थी, उक्त शिकायत पर संज्ञान लेते हुए गृह मंत्रालय ने 20-01-2015 तथा 06-05-2015 को आगे की कार्यवाही हेतु दमन-दीव प्रशासक को उक्त शिकायत अग्रेषित की गई, लेकिन मामले में प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही देखने को नहीं मिली।

गृह मंत्रालय तक को इस मामले में की गई शिकायत, लेकिन कार्यवाही कुछ नहीं हुई।

इसके बाद इसी मामले में दिनांक 22-12-2016 को उक्त शिकायतकर्ता द्वारा गृह मंत्रालय द्वारा जारी दोनों आदेशों का हवाला देते हुए, प्रशासक से तत्काल कार्यवाही की मांग की गई। इस मामले में पुनः 16-05-2017 को एक पत्र जारी कर प्रशासक को यह जानकारी दी कि उक्त मामले में संबन्धित अधिकारी तथा कार्यपालक अभियंता गोपाल जादव प्रशासन को गुमराह कर, इस मामले में कार्यवाही नहीं कर रहे है तथा प्रशासन को इस मामले की गलत जानकारी देकर प्रशासन को गुमराह कर रहे है। इतनी शिकायतों के बाद तथा गृह मंत्रालय तक मामला पहोचने के बाद भी यदि दमन की जनता द्वारा की गई शिकायतों का यह हाल है तो फिर इस पर प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल लाज़मी है।

ये भी पढ़ें-  भ्रष्ट अधिकारियों को संरक्षण दे रहे है जिला पंचायत के अध्यक्ष केतन पटेल!

मामला है सरकारी केनल पर अवैध कब्जे का, बताया जाता है की दमन के भीमपोर क्षेत्र में रहने वाले रमनभाई मंछाभाई ने सरकारी केनल पर अवैध कब्जा कर उस पर एक इमारत बना दी है, और इसी मामले में अब तक ना जाने कितनी शिकायते हो चुकी है इस पूरे मामले की पूरी जानकारी प्रशासन की फाइलों में मोजूद होने के बाद भी ना जाने किस कारण अब तक उक्त मामले में कार्यवाही करने के लिए प्रशासन परहेज़ कर रही है। समय रहते इस मामले में कार्यवाही करने के साथ साथ इस पर भी प्रशासन को ध्यान देने की आवश्यकता है की गृह मंत्रालय द्वारा दमन-दीव प्रशासन तथा प्रशासक को मिली शिकायतों की लाज समय पर रख ली जाए।