दीव दौरे के दूसरे दिन प्रशासक प्रफुल पटेल ने, पर्यटक स्थलों का भ्रमण कर विकास कार्यो का लिया जायजा 

दीव दौरे के दूसरे दिन प्रशासक प्रफुल पटेल ने, पर्यटक स्थलों का भ्रमण कर विकास कार्यो का लिया जायजा  | Kranti Bhaskar
संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दानह प्रशासक प्रफुल पटेल अपने दीव दौरे के दूसरे दिन बुधवार को दीव के पर्यटक स्थलों का दौरा किया. वे भारत के 100 आदर्श स्मारक/साईटों की सूची में शामिल दीव की ऐतिहासिक किला में चल रहे विकास की गतिविधियों से रूबरू हुए. यहां पर उन्होंने दीव किले के हर क्षेत्र का बारिकी से अवलोकन किया. प्रशासक ने किले की साफ सफाई, तोप के रखने हेतु लकड़ी के स्टैंड बनाने तथा ग्रीन पैचेज के विकास हेतु निर्देश दिये. किला के उचित रख-रखाव हेतु प्रयास करने को भी कहा. भारतीय पुरात्तत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा किले में किये जा रहे कार्यों पर भी एक नजर डाली. इसके बाद प्रशासक प्रफुल पटेल दीव स्थित मशहूर चर्च भी गये और चर्च को देखकर काफी प्रभावित हुये. उन्होंने चर्च के आस-पास के क्षेत्रों के सौंदर्यीकरण हेतु सरकारी अधिकारियों को निर्देश दिये. प्रशासक आइएनएस खुकरी और चक्रतीर्थ बीच गये. यहां पर किये जा रहे सौंदर्यीकरण कार्य का अवलोकन करते हुए उन्होंने कहा कि इसकी प्राकृतिक सौंदर्य को बनाए रखते हुए यहां पर लाईट एवं साउंड सिस्टम की व्यवस्था की जाये. यह दीव के पर्यटक स्थलों में से एक है और यह स्थल पर्यटकों को काफी आकर्षित करता है. इस जगह का समुचित विकास किया जाये. बच्चों के लिए चिल्ड्रेन पार्क बनाये जाये और इसमें मनोरंजन के साधन उपलब्ध करायें जाये. प्रशासक नायड़ा की गुफा भी गये. प्रशासक ने इस गुफा में साफ-सफाई पर ध्यान देने के निर्देश दिये. लंबे वृक्षों को काटने की मनाही की और चट्टानों में पडऩे वाले दरारों/क्रेक के वजहों का पता लगाने और घासफूस साफ करने के आदेश दिये. एनेक्सी सर्किट हाउस का जायजा लेते हुए कहा कि इसका नये सिरे से निर्माण किया जाये. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इसका और अधिक विस्तार किया जाये. प्रशासक प्रफुल पटेल ने समाहर्तालय परिसर का भी दौरा किया और उपलब्ध संसाधनों के विषय में संबंधित प्राधिकारी से जानकारी हासिल की. उन्होंने इस परिसर को और अधिक सुंदर बनाने हेतु प्रयास करने के निर्देश दिये. इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल, दीव स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स भी गये और वहां पर चल रहे विकास कार्यों का जायजा लिया. वे इस कॉम्पलेक्स में किए गए लैंड स्केपिंग से काफी संतुष्ट नजर आए. इस जगह को और बेहतर तरीके से विकसित करने, ग्रीन पैचेज लगाने तथा आस पास साफ-सफाई रखने के भी निर्देश दिये. पर्यटक स्थलों के भ्रमण के सिलसिले में प्रशासक दीव के प्रवेश द्वार पर स्थित घोघला बीच भी गये. घोघला बीच पर पर्यटकों के लिए संसाधनों और सुविधायें उपलब्ध कराने के निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि इस बीच को और अधिक सुंदर बनाया जा सकता है और इसके लिए विकास की रूपरेखा तैयार कर इसका उचित रूप से विकास किया जाये. यह बीच दीव के प्रवेश द्वार पर स्थित है इसलिए इसका विकास किया जाना जरूरी है. इसके अलावा प्रशासक ने दीव जिला के विविध पर्यटक स्थलों तथा दीव म्यूजियम, पानी कोठा, आईलैंड रेसीडेंसी, डायनासौर पार्क आदि का भी दौरा किया. उन्होंने दीव जिला के प्रत्येक पर्यटक स्थलों के आसपास के क्षेत्रों को बेहतर तरीके से विकसित करने पर बल देते हुए निर्देश दिया कि जहां तक हो प्राकृतिक सौंदर्य को बिना क्षति पहुंचाये इन सभी का विकास किया जाये और बेहतर से बेहतर बनाने के प्रयास किये जायें. प्रशासक के दौरे के दौरान कलेक्टर विक्रम ङ्क्षसह मलिक, एसपी समीर शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे.