धूमधाम से मनाया गया दीव महाविद्यालय का वार्षिकोत्सव

धूमधाम से मनाया गया दीव महाविद्यालय का वार्षिकोत्सव | Kranti Bhaskar
संघ प्रदेश दीव स्थित महाविद्यालय का वार्षिकोत्सव शुक्रवार को धूमधाम से मनाया गया. इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रशासक प्रफुल पटेल मुख्य रूप से उपस्थित रहें. जानकारी के अनुसार शुक्रवार शाम करीब 4 बजे मलाला प्रेक्षागृह में दीव कॉलेज का वार्षिक कार्यक्रम आयोजित हुआ. समारोह में दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली के प्रशासक प्रफुल पटेल मुख्य रूप से मौजूद थे.
देवी सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर प्रशासक ने कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया. इस अवसर पर प्रशासक एवं वाईस चांसलर तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को पुष्पगुछ देकर स्वागत किया गया. इसके बाद महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने रंगारंग प्रस्तुति दी. अपनी प्रस्तुति से इन प्रतियोगियों ने सबको मंत्रमुग्ध कर दिया. प्रशासक एवं सौराष्ट्र यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रताप चौहाण ने संयुक्त रूप से प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली दीव कॉलेज की छात्रा निलम को इस अवसर पर पुरस्कृत किया.  शिक्षा के विभिन्न स्ट्रीमों के साथ-साथ अन्य क्षेत्रों जैसे कला, स्पोर्ट्स, सांस्कृतिक कार्यक्रमों, सामाजिक कार्य में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को भी पुरस्कार से नवाजा गया. इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल ने अपने उद्बोधन में कहा कि शिक्षा वह अमोघ अस्त्र है, जिसकी सहायता से हम सिर्फ अपना ही कल्याण नहीं करते, बल्कि समस्त समाज का कल्याण कर सकते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि हमारे देश को विकास के पथ पर अग्रसर करने में उच्च शिक्षा की अहम भूमिका है. उन्होंने कहा कि मुझे आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि दीव कॉलेज अपने इस उद्देश्य को अवश्य प्राप्त करने में सफल होगा. इस अवसर पर प्रशासक ने महाराणा प्रताप और देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जीवन चरित्र को छात्र-छात्राओं के समक्ष उदाहरणस्वरूप रखा. उन्होंने कहा कि आप सभी छात्र-छात्राओं को सतत परिश्रम करते रहना चाहिए. परिश्रम का कोई विकल्प नहीं होता और कोई भी सफलता शॉर्ट-कट से नहीं मिलती. प्रशासक ने कहा कि दीव की बालिकायें हर क्षेत्र में आगे बढ़े और उन्हें किसी का मोहताज न बनना पड़े और इसके लिए उन्हें किसी भी प्रकार की मदद चाहिए तो प्रशासन हमेशा तैयार है. उन्होंने रंगारंग कार्यक्रम की प्रस्तुति के लिए महाविद्यालय के प्रतियोगियों एवं छात्र-छात्राओं की भूरि-भूरि प्रशंसा की. इस तरह के रंगारंग कार्यक्रम के सफल आयोजन पर उन्होंने महाविद्यालय के तमाम प्राचार्य, प्रोफेसर व स्टॉफ को भी धन्यवाद दिया. वार्षिक कार्यक्रम समारोह में दीव जिला प्रशासन के तमाम आला अधिकारी, पुलिस अधीक्षक, दीव नगरपालिका परिषद एवं जिला पंचायत के प्रमुख तथा महाविद्यालय के अध्यापक एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे.
वार्षिक कार्यक्रम के बाद दीव हायर एज्युकेशन सोसायटी की गवर्निंग बॉडी की एक बैठक हुई. जिसमें प्रशासक प्रफुल पटेल के अलावा सौराष्ट्र युनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रताप चौहाण जी, वित्त सचिव विक्रम सिंह मलिक, दीव समाहर्ता पी.एस.जानी, उपसमाहर्ता डॉ.अपूर्व शर्मा एवं सहायक शिक्षा निदेशक आर.आर.जादव उपस्थित रहे. बैठक में महाविद्यालय के प्राचार्य ने पावर प्वाइंट प्रजेटेंशन के माध्यम से महाविद्यालय की गतिविधियों की संपूर्ण जानकारी दी. इस बैठक में वाइस चांसलर ने शिक्षा के विकास पर जोर देते हुए कहा कि गुजराती माध्यम के विद्यार्थियों को अंग्रेजी में कठिनाई आती है और इसे दूर करने हेतु इनके बीच जागरूकता लाने के लिए प्रयास किये जाये. प्रशासक ने इस अवसर पर कहा कि अंग्रेजी पर जोर दिया जाये जिससे कि यहां के विद्यार्थियों को अखिल भारतीय स्तर की प्रतियोगिताओं में सफलता प्राप्त करने में अड़चन न आये. कैरियर गाइडेंस के लिए प्रशासक ने बताया कि इसकी जानकारी विद्यार्थियों को जरूर प्रदान करवायें. पुस्तकालय के प्रति छात्रों में रूझान पैदा करें. उन्होंने कहा कि लाइब्रेरियन अपनी भूमिका सही तरह से अदा करें और हो सके तो संसद की लाइब्रेरी को एक बार जरूर मुलाकात ले और वहां से प्राप्त जानकारी विद्यार्थियों को शेयर करे. इस अवसर पर प्रशासक ने विद्यार्थियों को कल्चरल एकेडमी के लिए पांडिचेरी भी भेजने का निर्देश दिया. धन्यवाद ज्ञापन के साथ यह बैठक संपन्न हुई. उक्त जानकारी दीव प्रशासन की तरफ से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में दी गयी है.