प्रशासन और उधोगपतियों की मिलीभगत से विकास को सेंध: वासू पटेल।

Vasu-&-Navin
Vasu-&-Navin

कुछ समय पहले भाजपा प्रमुख वासू पटेल द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर अनियमितताओं एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ एक मुहिम छेड़ने की बात कहीं गई, वासू पटेल ने कुछ मामले प्रशासक तो कुछ गृह मंत्री राजनाथ सिंह के समक्ष प्रस्तुत, उक्त विज्ञप्ति में सरकारी जमीन एवं अनियमितताओं के साथ साथ दमन बिजली विभाग में हो रहे भ्रष्टाचार की बात को प्रमुखता से करते हुए, प्रशासन को संज्ञान लेने हेतु कहां गया। उक्त विज्ञप्ति के बाद एक एक कर अभी नए बखेड़े तो कभी नई बाते माहोल को गर्माती रही,फिलवक्त पुनः वासू पटेल द्वारा के प्रेस विज्ञप्ति सामने आई है जिसमे दमन भाजपा ने प्रशासन और उधोगों की मिलीभगत की बात कहीं है।

ये भी पढ़ें-  दमण में दिव्यांगों की सेवा कर मनाया गया PM का जन्म दिन।

दमन-दीव भाजपा द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया गया की जहां तक दमन-दीव के विकास की बात है तो भाजपा कभी विकास की बात से पीछे नहीं हटेगी, लेकिन विकास की आड़ में चल रहे गोरख-धंधों को भी कतेई बरदास्त नहीं किया जाएगा। अपने कड़े रुख में दमन भाजपा ने यह साफ बता दिया की दमन कुछ प्रशासनिक अधिकारी और उधोगपति मिलकर लूट-खसोट कर रहे है, जिस पर अंकुश लगाने के लिए भाजपा ने अपनी मुहिम छेड़ दी है।

हालांकि इस विज्ञप्ति में यह भी बताया गया, भाजपा किसी भी उधोगपति के खिलाफ नहीं है, बल्कि जिन उधोगों के संबंध में न्यायोचित कार्यवाई की माँग को प्रशासन नजरअंदाज कर रही है, उन उधमियों पर कार्यवाई एवं अनियमितताओं के खिलाफ कार्यवाई की माँग की गई है। वहीं जहां तक दमन-दीव के पर्यावरण की बात है तो जिन इकाइयों द्वारा पर्यावरण को हानि पहुचाने का काम जिन उधोगिक इकाइयों द्वारा किया जा रहा है, उन इकाइयों पर कार्यवाई के लिए भाजपा अपनी आवाज बुलंद करती देखी गई।

ये भी पढ़ें-  कोरोना संकट में भी DNH-DD के गरीब श्रमिकों के शोषण कि शिकायतें।

अंत में अपनी अध्यक्षीय कुर्सी का हवाला देते हुए, बताया गया की आम जनों के हकों की हिमायत करने पर विरोध नहीं, परितोषित के हकदार है वासू पटेल।