बिहार की राजनीति : खतरे में पड़ी राबड़ी देवी के नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी

0
25
बिहार की राजनीति : खतरे में पड़ी राबड़ी देवी के नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी - बिहार

आरजेडी के पांच विधान परिषद सदस्यों के जनता दल यूनाइटेड में जाने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी भी खतरे में पड़ सकती है। बिहार विधान परिषद में कुल 75 सीटें है और विपक्ष के नेता के लिए 8 सीटें होनी चाहिए। राजद के पांच एमएलसी ने राजद छोड़ जदयू का दामन थाम लिया। इसके बाद राजद के पास सिर्फ तीन सीटें रह गई है। ऐसे में राबड़ी देवी को जल्द विपक्ष के नेता की कुर्सी छोड़नी पड़ सकती है।

कौन-कौन शामिल हुए जदयू में : 

राधा चरण सेठ, संजय प्रसाद, रणविजय सिंह, दिलीप राय और कमरे आलम के जेडीयू में विलय को विधानपरिषद सभापति अवधेश नारायण सिंह ने स्वीकृति दे दी है। सभापति ने बताया कि मंजूरी देने से पहले सभी एमएलसी से बात की गई और उनके सिग्नेचर का मिलान किया गया। 

राजद को दाेहरा झटका : 

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि वह रामा सिंह को राजद में शामिल किए जाने को लेकर नाराज हैं। फिलहाल रघुवंश प्रसाद पटना एम्स में भर्ती हैं वह, कोरोना से संक्रमित हैं।जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले ही रामा सिंह ने तेजस्वी यादव से मुलाकात की थी और उसके बाद ही उनके राजद ज्वाइन करने की चर्चा है। रामा सिंह के साथ ही सवर्ण समाज से कई अन्य नेता भी राजद में शामिल होने वाले हैं। बता दें कि किसी जमाने में रामा सिंह लालू यादव और रघुवंश प्रसाद सिंह के कट्टर विरोधी रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here