मोटापे समेत इन 10 बीमारियों को देनी है मात तो आज से ही खाएं अरबी

नई दिल्ली। अमूमन घरों में दोपहर की सब्जी में अरबी बनाई जाती है। ज्यादातर लोग इसे टेस्ट के लिए खाते हैं, लेकिन क्या आपको पता है अरबी खाना आपको सेहतमंद भी रख सकता है। दरअसल इसमें मौजूद विटामिन्स शरीर को पोषण देने में मदद करते हैं। इससे कैंसर जैसे घातक रोग से भी बचाव होता है।

1.जो लोग मोटापे से छुटकारा पाना चाहते हैं उन्हें रोजाना एक छोटी कटोरी उबली हुई या भाप में पकी अरबी खानी चाहिए। क्योंकि अरबी में भरपूर मात्रा में फाइबर्स होते हैं। ये पाचन क्रिया को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। इससे वजन कम होता है।

ये भी पढ़ें-  वन विभाग बना आर्थिक एवं नैतिक भ्रष्टाचार का अड्डा?

2.अरबी में विटामिन ए, विटामिन सी और एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने नहीं देते हैं। इससे बैक्टीरिया शरीर में नहीं फैल पाते हैं।

3.अरबी में सोडियम, पोटैशियम और मैग्नीशि‍यम जैसे पोषक तत्व होते हैं। ये ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं।

4.अरबी में पर्याप्त मात्रा में फाइबर्स होते हैं। इसे रोजाना सही मात्रा में खाने से इंसुलिन और ग्लूकोज की मात्रा का संतुलन बना रहता है। जिससे डायबिटीज के रोग में लाभ होता है।

ये भी पढ़ें-  सूचना का अधिकार अधिनियम, 2005 क्या है? एवं उसकी ताकत

5.अरबी भूख को नियंत्रित करने का काम करती है। साथ ही ये मेटाबॉलिज्म को भी तेज करता है। जिससे खाना जल्दी पचता है।

6.अरबी स्किन के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। इसमें विटामिन, तांबा, मैंगनीज, जस्ता, मैग्नीशियम, कैल्शियम, लोहा, सेलेनियम, पोटेशियम, बीटा-कैरोटीन जैसे खनिज तत्व होते हैं। ये सभी स्किन को टाइट रखने और बुढ़ापे के असर को कम करने के लिए उपयोगी होते हैं।

arbi ke fayde

7.अरबी में विटामिन सी काफी मात्रा में होता है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली और अधिक सफेद रक्त कोशिकाओं को बनाने में मदद करता है। ये शरीर को संक्रमण से बचाता है।

ये भी पढ़ें-  2019 लोकसभा चुनाव सात चरणों में होंगे - सुनील अरोड़ा

8.अरबी में विटामिन ई और मैग्नीशियम होता है। ये मांसपेशियों, हड्डियों और तंत्रिका तंत्र को दुरुस्त रखने में मदद करता है।

9.जिन लोगों को अक्सर थकान लगती है उन्हें अरबी खानी चाहिए। क्योंकि इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स नामक तत्व होता है। यह जल्दी पच जाता है और शरीर को भरपूर ऊर्जा देता है।

10.अरबी में मात्र 0.1 ग्राम फैट और कोलेस्ट्रोल होता है। इसे खाने से धमनियों में कोलेस्ट्रोल जमने का खतरा नहीं रहता और दिल से जुड़ी बीमारियां नहीं होती है।