मोदी सरकार हुईं कामयाब, सितंबर से मिलेंगे स्विस बैंक में जमा धन के विवरण

Modi

*नई दिल्ली।* विदेश में जमा काली कमाई के विरुद्ध सरकार की कोशिशें सितंबर में रंग लाती दिखाई दे रही है। जब स्विस बैंक के भारतीय ग्राहकों के खातों के विवरण सरकार को मिलेने लगेंगे। इसके तहत उन खातों के भी विवरण सरकार को मिलेंगे, जो पिछले साल के बाद से बंद करा दिए गए हैं।

स्विट्जरलैंड ऑटोमैटिक एक्सचेंज ऑफ इन्फोर्मेशन (एईओआइ) फ्रेमवर्क के तहत ये आंकड़े इनकम टैक्स विभाग से साझा करेगा। इन आंकड़ों में प्रत्येक स्विस वित्तीय संस्थानों के हर भारतीय ग्राहक के अकाउंट नंबर, जमा राशि और सभी प्रकार की वित्तीय आमदनी शामिल होंगे।

ये भी पढ़ें-  मुखरता के लिए मशहूर ‘जनता के जज’

स्विट्जरलैंड के फेडरल डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंस (एफडीएफ) के मुताबिक सितंबर में विवरण मिलने के बाद सालाना आधार पर ये विवरण मिला करेंगे। ये विवरण करीब सौ भारतीय इकाइयों के लिए स्विट्जरलैंड द्वारा भारत के साथ पहले साझा किए गए विवरणों के अतिरिक्त होंगे। ये विवरण स्विट्जरलैंड ने टैक्स मामलों पर प्रशासनिक सहयोग के लिए द्विपक्षीय समझौते के तहत वित्तीय गड़बड़ी के सबूत दिए जाने के बाद भारत के साथ साझा किए थे।
विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने बुधवार को लोकसभा में दिए गए लिखित जवाब में यह भी कहा कि सितंबर से स्विट्जरलैंड में स्थित भारतीयों के वित्तीय खातों के बारे में सूचना ऑटोमैटिक आधार पर मिला करेगी। उन्होंने कहा कि भारत-स्विट्जरलैंड टैक्स समझौते के तहत जिन मामलों पर जांच चल रही है, उन मामलों में मांगे जाने पर भी सूचना मिलेंगी।

Modi