राजस्थान में अब ‘बार’ होंगे गुलजार, लेकिन इस डर से मालिक नहीं खोलने को तैयार

48
राजस्थान में अब होटल और रेस्टोरेंट्स में शराब परोसने की छूट मिल गई है। आबकारी विभाग ने होटल और रेस्टोरेंट्स स्थित बार में शराब बेचने की अनुमति दे दी है, लेकिन रेस्टोरेंट और बार संचालकों ने फिलहाल अपने बार इस महीने के अंत तक नहीं खोलने का फैसला किया है।
क्योंकि उनका कहना है कि केन्द्रीय गाईड लाईन्स के अनुसार 9 बजे बाद कर्फ्यू जारी रहता है। लोगों को बाहर निकलने की मनाही है, ऐसे में शाम के बाद ही गुलज़ार होने वाले ये बार कैसे चलेंगे।

अनलॉक-1 के दौरान राजस्थान सरकार ने एक और बड़ी छूट का ऐलान किया है। इसके तहत आबकारी विभाग ने वैध लाईसेंस वाले बार और रेस्टोरेंट में शराब परोसने की मंजूरी दी है।

लॉकडाउन की शुरुआत यानि राजस्थान में 22 मार्च से ही प्रदेश के सभी बार को बंद करते हुए वहां शराब की बिक्री पर रोक लगा दी गयी थी। चूंकि अब गृह विभाग से अनुमति के बाद आबकारी विभाग ने शराब बेचने की छूट दे दी है। ऐसे में बार को भी खोलने का आदेश जारी कर दिया गया है। हालांकि बार में कोविड-19 को लेकर जारी दिशा निर्देशों का पालन करना अनिवार्य होगा।

रेस्टोरेंट मालिक हालांकि बार को खोले जाने के फैसले से खुश तो हैं, लेकिन उनकी परेशानियां अभी भी बरक़रार है। मसलन 24 तारीख से बार के खुलने की अनुमति है, ऐसे में यदि वे तत्काल बार खोलते हैं तो नियमानुसार उन्हें पूरे महीने का स्टोक उठाकर महज 6 दिनों में ही बेचना पड़ेगा जोकि संभव नहीं है। ऊपर से लॉकडाउन-5 जारी है, जिसके तहत रात को 9 बजे बाद लोगों के घर से बाहर निकलने और दुकान के बंद होने का आदेश यथावत है। ऐसे में देर रात तक गुलज़ार रहने वाले बार यदि शाम 8.30 बजे बजे ही बंद होना शुरू हो जायेंगे तो इनकी कमाई कैसे होगी। ऐसे में जयपुर बार रेस्टोरेंट और एसोशिएसन में फैसला किया है कि 1 जुलाई से पहले वह कुछ और छूट की मांग के साथ ही बार खोलेंगे।

बहरहाल बार और रेस्टोरेंट खोलने का फैसला एक और बड़ी छूट कहा जा सकता है, लेकिन इसके साथ होने वाली दिक्कते अभी इनके खुलने में आड़े आ रही है। क्योंकि हर कुछ घंटे में बार से बाहर निकलने वाले ग्राहक की खाली कुर्सियों, काउंटर को अच्छे से सेनेटाईज करना और नए आने वाले ग्राहकों से मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन कराने की जिम्मेदारी भी इन्हीं बार के मालिकों पर हैं। ऊपर से शराब की सभी बोतलों को डिसइनफेक्टेड करते ग्लास को गर्म पानी और नींबू से धोकर सेनिटाइज करना भी कोई आसान काम नहीं होगा।