वलसाड समाहर्ता की अध्यक्षता में १८१ महिला हेल्पलाईन का संकलन बैठक सम्पन्न 

वलसाड समाहर्ता की अध्यक्षता में १८१ महिला हेल्पलाईन का संकलन बैठक सम्पन्न  | Kranti Bhaskar
१८१ महिला हेल्पलाईन का संकलन बैठक वलसाड जिला समाहर्ता रेम्या मोहन की अध्यक्षता में कलेक्टर कार्यालय के सभागार में सम्पन्न हुई. इस बैठक में कलेक्टर ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा शुरू किये गये १८१ महिला हेल्पलाईन से मुश्किल में पड़ी कोई भी महिला यदि १८१ नंबर पर कॉल करती है तो उसे २४ घंटे त्वरित मदद एवं मार्गदर्शन मिलता है. महिला एवं बालकों के क्षेत्र में कार्य करने वाले सरकारी विभागों जिसमें आईसीडीएस, मिशन मंगलम, समाज सुरक्षा, दहेज प्रतिबंधक अधिकारी, चाईल्ड हेल्पलाईन सोसायटी, नारी संरक्षण गृह, सुरक्षा सेतु, शहरी आजीवीका मिशन, जेन्डर रिसोर्स सेंटर एवं जिला की महिला विकास क्षेत्र में काम करने वाली स्वैच्छिक संस्थायें एक-दूसरे के संकलन द्वारा १८१ महिला हेल्पलाईन का लाभ प्राप्त कर पीडि़त महिला को तात्कालिक मदद पहुंचाने में सहाय रूप बनने के लिए भी समाहर्ता ने अनुरोध किया. इस अवसर पर प्रोजेक्ट को-ऑर्डिनेटर चंद्रकांत मकवाणा ने कहा कि शुरूआत में ३ जिलों से शुरू हुए १८१ महिला हेल्पलाईन आज राज्य के तमाम जिलों में कार्यरत है. वलसाड जिला में वर्ष २०१४ में ११०, २०१५ में ९१५ तथा वर्ष २०१६ में १६२० जितनी महिलाओं को मदद उपलब्ध करायी गयी है. इस बैठक में उपजिला पुलिस अधीक्षक झाला, प्रोटेक्शन ऑफिसर, १०८ प्रोजेक्ट मैनेजर, जिला बाल सुरक्षा अधिकारी, आई.सी.डी.एस. अधिकारी वगैरह मौजूद रहकर १८१ महिला हेल्पलाईन को सुढृढ़ बनाने हेतु महत्वपूर्ण जानकारी दिया. इसके साथ ही नारी अदालत, आदर्श महिला मंडल, प्रगति महिला मंडल, ग्रामीण विकास केन्द्र, अस्तित्व महिला उत्कर्ष संस्था, एनार्डे फाउंडेशन, जीएचसीएल फाउंडेशन वगैरह संस्था के प्रतिनिधियों ने उपयोग जानकारी दी तथा स्मार्ट मोबाईल में १८१ अभयम मोबाईल एप्प डाउनलोड करने की जानकारी दी गयी. उक्त जानकारी वलसाड माहिती ब्यूरो द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में दी गयी है.