वापी के चनोद कोलोनी में असामाजिक तत्वों की हरकतों के खिलाफ रेली निकाली गई

वापी के चनोद कोलोनी में असामाजिक तत्वों की हरकतों के खिलाफ रेली निकाली गई | Kranti Bhaskar
वापी के चनोद कोलोनी विस्तार में असामाजिक तत्वों की हरकतों के खिलाफ बुधवार को दोपहर तक लोगो ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखा और इस अराजकतत्वों पर कड़ी कार्यवाही की मांग की जानकारी के अनुसार चनोद कोलोनी के निवासियों के आह्वान पर सुबह से लेकर दोपहर तक ज्यादातर दुकाने बंद रखी गई थी इस दोरान बाद में लोगो ने एक रेली भी निकाली थी लोगो का आरोप था की कुछ दिन से यहाँ अराजतत्वों की हरकते बढ़ गई हे तेज बाइक चलाना , युवतियों व् महिलाओ की छेडछाड़ ,हॉर्न बजाकर परेशान करना व चेन स्नेचिंग जेसे समस्याए लगातार हो रही है ऐसे तत्वों के खिलाफ अभियान चलाकर उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाई और चनोद कोलोंनि के पास पुलिस आउट पोस्ट बनाने की मांग की थी
वापी: मिली जानकारी के अनुसार चाणोद कॉलोनी में रहते दीपक उमाशंकर तिवारी उम्र 18 गत वह गत रात 8:00 बजे के आसपास अपने घर से दूध लेकर किसी के घर पर गया था उसके बाद घर वापस आते समय आरती गार्डन के सामने लाइट टावर के पास  4 से अधिक लड़के खड़े थे तब दीपक के साथ उसका मित्र अनिल यादव भी था तब चार लड़कों ने दोनों मित्रों को घेर लिया और पुरानी कोई अदावत रखकर झगड़ा करने लग गए और खूब मार मारा था उसके बाद चारों लड़कों ने कहा कि तुम लोग दादा बन गए हो इसके बाद दोनों मित्र मार मारने वाले आसिफ के घर पर गए लेकिन उसके घर पर कोई नहीं था उसके बाद गाली गलोच करके मार डालने की धमकी देकर फरार हो गए थे उसके बाद दोनों मित्र अपने घर पर आ गए तब उसके घर के आस-पास लोग इकट्ठा होकर इस मामले को लेकर बातचीत कर रहे थे क्योंकि इन चार लड़कों से लोग काफी परेशान हो गए हैं आने जाने वाले लोगों को परेशान करते रहते हैं
इसी मामले को लेकर चाणोद कॉलोनी में रहती महिला सावित्री देवी यादव बताया कि यह चार लड़के आते जाते समय झगड़ा करते रहते हैं और इस मोहल्ले में भय का वातावरण बना हुआ है यह लड़के आरती गार्डन के पास रोड पर हमेशा गाड़ी लगाकर रास्ते के बीच में बैठे रहते हैं और आने जाने वाली लड़कियों से छेड़खानी करते रहते हैं और यह असामाजिक तत्व आने जाने वाले सभी व्यक्तियों को धमकी देते रहते हैं पहले भी कई बार मारामारी कर चुके हैं लेकिन पुलिस द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था लेकिन इस बार लोग एकत्रित होकर इन 4 असामाजिक तत्वों के सामने वापी GIDC पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई और पुलिस ने रातों-रात ही तीन आरोपियों की घर पकड़ कर ली लेकिन अभी तक एक आरोपी पुलिस की पहुंच से दूर है अब देखने की बात यह है कि पुलिस इन असामाजिक तत्वों को छोड़ देती है या फिर लंबी सजा देती है जिससे लोगों को परेशानी ना हो क्योंकि इन असामाजिक तत्वों से लोग काफी परेशान हो चुके हैं यह असामाजिक तत्व अपना हुकुम चलाकर लोगों को डराते धमकाते हैं इस मामले पर सभी रह वासियों ने कड़क से कड़क कार्यवाही करने की मांग की है