सडक़ पर घूम रहे, शरारती तत्वों को दी धूप में बैठने की सजा

जोधपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का अभी तक कई लोग पालन नहीं कर रहे है। वे बिना कारण सडक़ों पर घूम रहे है। इन शरारती तत्वों को पुलिस भी अलग-अलग तरीके से सजा दे रही है। किसी से उठक-बैठक करवा रही है तो किसी के गले में मै समाज का दुश्मन हूं आदि स्लोगन लिखी तख्तियां लटका कर उसका फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर रही है। अब पुलिस ने जोधपुर में एक और नई सजा तैयार कर ली है। पुलिस अब इन शरारती तत्वों को तपती सडक़ पर सूरज की तेज किरणों व गर्मी के बीच नीचे बैठाकर सजा दे रही है।

ये भी पढ़ें-  राजस्थान बिजली विभाग में 300 करोड़ रुपए का घोटाला! AAP पार्टी ने की CBI जांच की मांग

जोधपुर में लॉकडाउन के दौरान घर से बाहर निकलने के लिए लोग नित नए बहाने गढ़ रहे है, ताकि पुलिस को चकमा देकर थोड़ी देर तक घूम लिया जाए। बारहवीं रोड चौराहे के समीप पुलिस ने मंगलवार को सडक़ पर घूमते तीन युवकों को रोका और लॉकडाउन के बावजूद सडक़ पर घूमने का कारण पूछा। पहले तो युवक संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए। बाद में दो युवकों ने अपनी जेब से बैंक की पासबुक निकालकर बताई और कहा कि वे इसे अपडेट कराने के लिए बैंक जा रहे है। पुलिस ने तीनों को रोक लिया और सडक़ पर धूप में बैठा दिया। तीनों को आधा घंटा तक धूप में बैठने की सजा दी गई। पासबुक अपडेट भले ही न हो पाई, लेकिन धूप में बैठने से तीनों युवक अपडेट हो गए। बाद में तीनों के मिन्नतें करने पुलिस ने उन्हें हिदायत देकर वहां से रवाना किया। वहां तैनात पुलिस का कहना था कि लोग बाहर घूमने के लिए रोज तरह-तरह से बहाने खोज कर आ जाते है।