उधोगपति का अपहरण करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार

610

वापी। वापी में पिछले कुछ दिनों से गंभीर अपराधों की बाढ़ सी आ गई है। लूट, चोरी और बलात्कार जैसी गंभीर घटनाओं के बाद अपहरण का सनसनीखेज मामला भी सामने आया है। इस मामले में पुलिस ने छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन अभी पांच आरोपी फरार हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार चला निवासी अमित भाई मोहनलाल शाह की सी टाइप में इंजीनियरिंग की कंपनी है। 9 फरवरी को शाम में वह कंपनी से अपनी बीएमडब्लू कार में घर जा रहे थे। इस दौरान इंडस्ट्रीयल बोइलर के पास वह गाड़ी रोककर लघुशंका करने लगे। इसी दौरान एक कार और पल्सर बाइक पर छह बदमाश वहां पहुंच गए और अमित शाह का उनकी कार में ही अपहरण कर लिया। उन्हें सभी आरोपी चणोद गाम में अंदर एक वाड़ी में बने मकान में ले जाकर बंधक बना लिया।

बाद में उनके परिवार को 50 लाख रुपए की मांग की। ऐसा न करने पर अमित शाह को जान से सामने की धमकी दी। जिसके बाद डरे सहमे परिवार के लोगो ने बदमाशों को 50 लाख रुपए उनकी बताई जगह पर पहुंचाया। तब जाकर उद्योगपति का छुटकारा हुआ था। घटना के कई दिनों बाद किसी तरह मामला पुलिस के संज्ञान में आया तो पुलिस ने अमित शाह से संपर्क किया। लेकिन डरे सहमे अमित शाह ने फरियाद करने से मना कर दिया। आखिरकार किसी तरह  पुलिस ने उन्हें राजी किया और अपहरण की रिपोर्ट दर्ज की। इस मामले का खुलासा करने के लिए कई टीमें बना कर यूपी, बिहार, दमण समेत कई जगहों पर पुलिस को भेजा गया था।

मुखबिरों के नेटवर्क को भी सक्रिय किया गया था। आखिरकार पुलिस ने गुरुवार को छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधीक्षक सुनील जोशी ने इस मामले की जानकारी प्रेस कान्फ्रेन्स में देते हुए कहा कि इस मामले में जिन्स ज्होन, रोहित खांडे, फेलिस शीबू, देवांग नरेश हलपति, अंकित मुरलीधर दुबे, विशाल उर्फ भंडारी को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 1.39 लाख रुपए नगद भी जब्त किया गया है। एक टेम्पो, कार और बाइक भी पुलिस ने जब्त की है। इस मामले का मास्टर माइंड जय बृज किशोर सिंह फरार है। वह डुंगरा में रहता है। उसके साथ रेहान खान, आकाश, राहुल, अमूल नामक आरोपी भी फरार हैं। पुलिस इस मामले में आगे की जांच कर रही है।