वेतन में बढ़ोतरी के लिए दो दिनों की हड़ता पर उतरे बैंक कर्मचारी

160

वापी। वेतन  विसंगितयों को दूर कर उसमें बढ़ोतरी समेत अन्य मांग के समर्थन में सरकारी बैंक कर्मचारियों की दो दिवसीय राष्ट्रीय हड़ताल में जिले के बैंक कर्मी भी जुड़े। जिसके कारण जिले की सभी सरकारी बैंकों के करीब तीन हजार ज्यादा कर्मचारी हड़ताल पर रहे। इसके चलते पूरे जिले में हजारों करोड़ रुपए के बैंकिंग कामकाज पर असर पड़ा था। बैंक कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि नवंबर 2017 से ही वे अपने वेतन में वृद्धि करने की मांग करते रहे हैं। लेकिन आज तक उन्हें सिर्फ आश्वासन ही मिलता रहा। लेकिन आइबीए द्वारा उन्हें सिर्फ वादे पर वादे ही किए गए। जिसके कारण आल इंडिया बैंक फोरम ने दो दिनों की राष्ट्रीय हड़ताल का आह्वान किया है। बैंक कर्मचारियों ने बताया कि इसमें क्लेरिकल और स्टाफ के कर्मचारी शामिल हैं। बैंक कर्मियों ने नारेबाजी कर अपनी मांग न मानने की नाराजगी को सार्वजनिक किया।  बैंक कर्मियों ने अपनी वेतनवृद्धि, पेन्शन में बढ़ोतरी, सप्ताह में पांच दिन काम और अन्य मुद्दे शामिल हैं। वापी और वलसाड जिले की सरकारी बैंकों में काम करने वाले तीन हजार से ज्यादा कर्मचारी हड़ताल में शामिल हुए थे। जिसके कारण बैंकिंग कारोबार पर असर पड़ा था।