संघ प्रदेश में बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद है और गुजरात में ट्रके भर भर कर शराब कि तस्करी!

Daman, Cheers bar

दमण। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में कोरोना की वजह से लगे जनता कर्फ़्यू के समय से बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद है। ऐसा नहीं है की केवल संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में ही बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद है देश के कई क्षेत्रों में जनता करफू के समय से बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद तो कई क्षेत्र ऐसे भी है जहा बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद खुल गए है। जानकारी मिली है कि देहरादून के DM की हरी झंडी देने के बाद 25 सितंबर, शुक्रवार से देहरादून में बार खुल गए हैं। खेर संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में बार एंड रेस्टोरेन्ट कब खुलेंगे यह सवाल तो बड़ा है ही लेकिन इससे भी बड़ा सवाल यह है कि संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में जहा बार एंड रेस्टोरेन्ट वेध है मतलब कि यहा बार एंड रेस्टोरेन्ट पर, गुजरात कि तरह प्रतिबंध नहीं है फिर भी बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद पड़े है और इसी संध प्रदेश से आए दिन उस गुजरात में शराब तस्करी के मामले सामने आते रहते है जहा शराब पर पूरी तरह प्रतिबंध है। मतलब जहा शराब कि बिक्री पर प्रतिबंध नहीं है वहा तो बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद और जहां शराब कि बिक्री पर प्रतिबंध वहां दमण से शराब भरे कंटेनर और ट्रके पकड़ी जा रही है।

ये भी पढ़ें-  सांसद मोहन डेलकर ने कहा इस्तीफ़ा दे दूंगा तो पूर्व सांसद ने कहा जनता मांगने वाली ही थी!

चौकाने वाली बात तो यह है कि संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में कुल कितने शराब के तस्कर है जो गुजरात में शराब कि तस्करी करते है यह जानकारी संघ प्रदेश कि आम जनता को है लेकिन वह शिकायत के झंजाल में पड़ना नहीं चाहती! क्रांति भास्कर कि टिम को भी संघ प्रदेश से गुजरात में शराब कि तस्करी करने वालों कि एक सूची मिली है लेकिन उस सूची में कई चर्चित और जनता से सम्मान प्राप्त व्यक्तियों के नाम होने कारण क्रांति भास्कर उन नामों कि सूची सबके सामने रखने से पहले सूची में दिए गए नामों कि सत्यता पर अपनी खोज-परख करना आवश्यक समझती है क्रांति भास्कर को जो सूची मिली है उसकी सत्यता शिद्ध होने के बाद क्रांति भास्कर उन सभी के नाम के साथ सबके सामने पूरा सच रखेगी, क्यों कि शराब कि तस्करी जनता को अपराध के दलदल में धकेलने कि सीढ़ी है और इस सीढ़ी का पूरी तरह टूटना आवश्यक है।

05bhrBanGodown4C

वैसे संघ प्रदेश से गुजरात में शराब कि तस्करी को देखकर लगता है कि संध प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव के आबकारी अधिकारियों ने सरकार द्वारा प्राप्त अनुमति से नियमानुसार बार एंड रेस्टोरेन्ट चलाने वालों पर तो नियंत्रण कर लिया, लेकिन ट्रकों और कंटेनर में सेकड़ों शराब के बॉक्स कि तस्करी करने वालों पर नियंत्रण करना भूल गए? खेर संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में बार एंड रेस्टोरेन्ट कब खुलेंगे यह सवाल तो अभी भी कायम है लेकिन प्रशासन एवं संबन्धित अधिकारियों को चाहिए कि जब तक संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव में बार एंड रेस्टोरेन्ट बंद है तक तक गुजरात में शराब कि तस्करी रोकने पर ज्यादा ज़ोर दे ताकि गुजरात सरकार को भी तस्करी के मामलों में चेन कि सांस लेना नसीब हो। शेष फिर।

ये भी पढ़ें-  दमन जिला पंचायत से सबसे अधिक ठेके मिले वापी के अजय ठाकुर को।

एक नज़र इधर भी…

शराब-माफ़िया रमेश माइकल के बाद अब किसका नंबर? 

सुरेश पटेल उर्फ सुखाभाई की वाइन शॉप पर गुजरात पुलिस की छापे-मारी।

बार एण्ड रेस्टोरेन्ट के लाइसेन्स में कितनी रकम वसूली गई? सीबीआई से जांच करवाए आबकारी आयुक्त।  

दमण में मिला, बिना लाइसेन्स वाला बार एण्ड रेस्टोरेन्ट!

दमण में खेती कि जमीन पर, शराब का लाइसेन्स, फूड लाइसेन्स और जीएसटी रजिस्ट्रेशन कैसे जारी हुआ?