भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया कोरोना पॉजिटिव, बिना मास्क कार्यक्रमों में की थी शिरकत

BJP state president Satish Poonia

जोधपुर। एक दिन पहले ही जोधपुर दौरे के बाद जयपुर लौटे भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया कोरोना पॉजिटिव निकले है। कोरोना संक्रमित होने की जानकारी उन्होंने खुद सोशल मीडिया के ज़रिये जारी की है। इस खबर के बाद आज जोधपुर के स्थानीय भाजपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं में खलबली मच गई। उन्होंने सतीश पूनिया से मुलाकात की थी और इस दौरान सतीश पूनिया अधिकांश समय तक बिना मास्क के रहे थे। वहीं कई भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता भी बिना मास्क के थे।

प्रदेश में राजनेताओं के कोरोना संक्रमित होने का सिलसिला थम नहीं रहा है। कई सांसदों व विधायकों के बाद अब भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया भी इसकी जद में आ गए हैं। उन्होंने आज सुबह स्वयं ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। इसमेंं डॉ पूनिया ने बताया कि कुछ क्षेत्रों का दौरा करने के बाद गुरुवार को जब वे जयपुर लौटे तब उन्होंने ऐहतियातन कोविड-19 का टेस्ट करवाया। जांच नतीजे में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई। पूनिया ने बताया है कि उनको किसी तरह की बीमारी के लक्षण नहीं थे, फिर भी उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। चिकित्सकों की सलाह पर वे होम आइसोलेट हो गए हैं। साथ ही उन्होंने पिछले दिनों संपर्क में आए लोगों से स्वास्थ्य परीक्षण करवाने की भी अपील की।

जोधपुर दौरे से लौटे है पूनिया
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष गुरुवार को ही जोधपुर दौरे से लौटे हैं। इस दौरान उन्होंने ओसियां और फलौदी सहित कई क्षेत्रों का दौरा किया था। पूनिया बुधवार सुबह जयपुर से सड़क मार्ग से सबसे पहले जोधपुर जिले के फलोदी पहुंचे थे। उन्होंने वहां जोधपुर देहात के पूर्व जिलाध्यक्ष राधकिशन थानवी के निधन पर उनके परिजनों से मिलकर संवेदना व्यक्त की थी। कोरोना संक्रमित थानवी का जोधपुर एम्स में इलाज के दौरान निधन हो गया था। इसके बाद फलोदी से पूनिया ओसियां तहसील के मांडिया गांव पहुंच किसानों के धरने पर तबीयत बिगडऩे के दौरान अपनी जान गंवाने वाले युवा किसान नेता पुखराज डोगियाल के परिजनों को ढांढ़स बंधाया था। पुखराज भी मृत्यु के पश्चात लिए गए सैंपल में कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इन दोनों स्थान पर पूनिया के साथ बड़ी संख्या में भाजपा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता साथ में थे। वहीं शोक सभाओं में भी बड़ी संख्या में लोग पूनिया के संपर्क में आए थे। यहां से जोधपुर पहुंच पूनिया ने सर्किट हाउस में प्रेस वार्ता की थी। इस दौरान बड़ी संख्या में पत्रकारों ने हिस्सा लिया। बाद में कई लोगों ने उनके साथ बैठकर नाश्ता भी किया। वहीं रात्रि प्रवास के दौरान भी भाजपा के पदाधिकारियों के साथ बैठ वे लगातार चर्चा करते रहे। उन्होंने स्थानीय पार्टी नेताओं से मुलाकातें और बैठकें भी की। जगह-जगह कई लोगों ने उनका स्वागत-अभिनन्दन भी किया। ऐसे में कई लोगों के उनके संपर्क में आने की बात सामने आई है।

ये भी पढ़ें-  इन कंपनियों के परिणाम आज आ रहे हैं

दौरे के दौरान दिखी लापरवाही
पूनिया के जोधपुर दौरे के दौरान कई जगहों पर राज्य सरकार की कोविड गाइडलाइन की अनदेखी देखने को मिली। कहीं सोशल डिस्टेंसिंग का अभाव दिखा तो कहीं लोगों ने मास्क नहीं लगा रखे थे। पूनिया खुद कई जगहों पर बिना मास्क के दिखे। कई तस्वीरों में वे भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते हुए देखे गए। अब पूनिया के कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद सभी लोगों में खलबली मची हुई है। उनके संपर्क में आए लोग सुबह से एक-दूसरे के हालचाल पूछ रहे हैं। साथ ही वे आपस में पता करने में जुटे हैं कि किसी को बुखार-जुकाम जैसे कोरोना के लक्षण तो नहीं है। उनके संपर्क में आए कुछ लोगों ने स्वयं को आइसोलेट कर लिया है। साथ ही प्रेस वार्ता में शामिल हुए पत्रकार भी पसोपेश में है कि वे अपना परीक्षण कराए या नहीं लेकिन उन्होंने एहतियात बरतना शुरू कर दिया है।

ये भी पढ़ें-  जोधपुर में पटवारी बीरबल राम को 25 लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा।

ये कांग्रेस नेता हुए संक्रमित
प्रदेश कांग्रेस के कोरोना संक्रमित नेताओं में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, पूर्व पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, पूर्व खाद्य मंत्री रमेश मीणा, पूर्व मंत्री व विधायक रामलाल जाट, विधायक रफीक खान, पूर्व महापौर ज्योति खण्डेलवाल कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं।

ये भाजपा नेता आए पॉजिटिव
वहीं भाजपा नेताओं के कोरोना संक्रमित होने वालों की फहरिस्त लम्बी है। ‘पार्टी विद डिफरेंसÓ के इस संगठन में केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों के नाम भी शामिल हैं। इनमें तीन केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत, अर्जुन मेघवाल और कैलाश चौधरी कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। वहीं सांसद डॉ किरोड़ी लाल मीणा, हनुमान बेनीवाल और राजेन्द्र गहलोत भी कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इनके अलावा उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष व विधायक डॉ सतीश पूनिया, विधायक चंद्रभान आक्या, हम्मीर सिंह भायल, अशोक लाहोटी, पब्बाराम विश्नोई, अर्जुन लाल जीनगर कोरोना पॉजिटिव हैं। विधायक अनीता भदेल और पूर्व विधायक अरुण चतुर्वेदी भी कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे संक्रमण के खतरे को देखते हुए दो से तीन बार होम आइसोलेट हो चुकीं हैं।

महामारी एक्ट की अनदेखी
प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए राजस्थान एपिडेमिक अध्यादेश लागू है। राजस्थान पुलिस की ओर से प्रदेशभर में आजमन पर कार्रवाई करते हुए करोड़ों की वसूली हो चुकी है जो निरंतर जारी है। वहीं दूसरी ओर राजनीतिक दलों की ओर से सरकारी गाइडलाइन्स का जैसे खुलकर मखौल उड़ाया जा रहा है। संक्रमणकाल के बीच धरने-प्रदर्शनों का सिलसिला परवान पर है। अब तो ‘वर्चुअलÓ भाजपा भी सरकार का विरोध जताने के लिए सड़कों पर उतर आई है। इन आयोजनों में कोरोना महामारी के निषेधाज्ञा मापदण्डों की जमकर धज्जियां उड़ती दिख रही है लेकिन राजनेताओं पर कार्रवाई के नाम पर पुलिस-प्रशासन का मौन आमजन के बीच कई सवाल खड़े कर रहा है।