देन्दुआ में भाजपा का अस्तित्व अब शून्य – बिधान

राहूल तिवारी,आसनसोल ,सालानपुर : माकपा काल से ही देन्दुआ पंचायत में सक्रीय राजनीती की भूमिका में रहे एंव तत्कालीन भाजपा जिला कमिटी के वरिष्ठ नेता मनोज तिवारी रविवार को अपने पार्टी कार्यालय एवं सैकड़ो भाजपा नेता सह कर्मियों के साथ तृणमूल में सामिल हो गए । IMG 20210620 WA0066इस दौरान लेफ्ट बैंक स्थित भाजपा कार्यालय को भी तृणमूल कार्यालय में परिवर्तित करते हुए बाराबनी विधायक ने यहाँ तृणमूल ध्वजारोहण के साथ पार्टी कार्यालय का उद्घाटन किया , जिसके बाद वरिष्ठ भाजपा नेता मनोज तिवारी , मोबिन खान और रामचंद्र साव ने कार्यकर्ताओं के साथ भाजपा को अलविदा  कहते हुए बाराबनी विधायक विधान उपाध्याय , सालानपुर तृणमूल ब्लाक अध्यक्ष मो० अरमान तथा सालानपुर ब्लाक तृणमूल महासचिव भोला सिंह के हाथों तृणमूल कांग्रेस का झंडा थाम लिया

ये भी पढ़ें-  लाल कनेर का फूल चढ़ाने समेत रविवार को करें ये 10 उपाय, सूर्य देव की मिलेगी कृपा

जहाँ बाराबनी विधायक बिधान उपाध्याय ने कहा कि क्षेत्र के वरिष्ठ नेता मनोज तिवारी की भागीदारी से इस बार देन्दुआ पंचायत में पार्टी की जीत निश्चित है , अपनी गलती का अहसास होने पर वह तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए , तृणमूल कांग्रेस एक परिवार है , यहां सब एक समान हैं और इस परिवार में सद्भाव से विकास कार्य होता हैं , आज से इस परिवार में सभी का स्वागत है । जिस भाजपा पार्टी की बुनियाद ही सांप्रदायिक भेद भाव की नीव पर है , उसका परास्त होना निश्चित था , तृणमूल जाती पति उच नीच की राजनीती से ऊपर उठकर जनता के हित के लिए कार्य करती है , और आगे भी करती रहेगी । वही इस दौरान मनोज तिवारी ने कहा “मैं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और विधायक विधान उपाध्याय के विकास से प्रभावित हूँ , मैंने विधानसभा चुनाव में भाजपा के साथ काम किया हूँ , राज्य के लोगो ने तृणमूल कांग्रेस की विकास कार्यो को देख कर भाजपा को राज्य में प्राजित किया है । आज सौ से अधिक बूथ कार्यकर्ताओं और देंदुआ क्षेत्र के बूथ अध्यक्षों के साथ तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुआ हूँ , आने वाले दिनों में विधायक के निर्देश पर देन्दुआ क्षेत्र का विकास एवं उनके विस्वास पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा । मौके पर देदुआ ग्राम पंचायत उपप्रधान रंजन दत्तो, तृणमूल नेता शशि भूषण पाण्डेय, श्रमिक नेता डी बब्लू , मन्नू सिद्दीकी, जॉय प्रकाश सिंह, बीर सिंह, आशुतोष तिवारी, नरेंद्र खोसला, विजय सिंह, शंकर घोष समेत अन्य उपस्थित रहे|