घूसखोर कोटा जिला प्रमुख गिरफ्तार, सुरेंद्र गोचर को कोर्ट ने भेजा जेल

हिमांशु मित्तल, कोटा: घूसखोर जिला प्रमुख सुरेंद्र गोचर को बुधवार को एसीबी की टीम ने उसके सरकारी आवास से गिरफ्तार कर लिया. गिराफ्तारी के बाद सुरेंद्र गोचर को गुरुवार को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे कोर्ट ने 4 फरवरी तक जेल भेज दिया है. कोटा एसीबी की इस कार्यवाही के बाद अब जिला परिषद में हड़कंप मचा हुआ है.

मामले की जांच कर रहे बारां एसीबी सीआई ज्ञानचंद मीणा ने बताया कि काल्याखेड़ी के सरपंच ने कोटा एसीबी को शिकायत दी थी, जिसमें बताया गया था कि निर्माण कार्यों की वित्तीय स्वीक्रति जारी करने की एवज में जिला प्रमुख के पीए चंद्रप्रकाश और बाबु कमलकान्त द्वारा 25 हजार की रिश्वत की मांग की जा रही है. जो कि जिला प्रमुख के लिए दलाली करते हैं, जिस पर कोटा एसीबी की टीम ने जाल बिछाते हुए पीए चंद्रप्रकाश को जिला परिषद कार्यालय से रंगे हाथों गिरफ्तार किया था.

दो दिनों के बाद आरोपी बाबु कमलकान्त वैष्णव को भी कोटा एसीबी की टीम ने गिरफ्तार कर लिया था. इन दोनों से जब पूछताछ की गई तो इन्होंने जिला प्रमुख गोचर के लिए ये रिश्वत लेना बताया था. साथ ही एसीबी के पास कुछ महत्वपूर्ण प्रमाण मौजूद हैं जिनमें जिला प्रमुख गोचर की भूमिका पूरी तरह से स्पष्ट है.

Leave your vote

500 points
Upvote Downvote

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of