24 घंटे में कोरोना के करीब सात हजार मामले, कुल मरीज एक लाख 40 हजार के पास

0
6

कोरोना वायरस के मामले देश में काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। बीते कई दिनों से रोजाना छह हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, इस समय देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 138845 पहुंच गई है। इसमें से 4021 लोगों की मौत हुई है। दिल्ली में अब तक 13,418 लोग संक्रमण के चलते बीमार हो चुके हैं, जिसमें से 261 की मौत हुई है। दुनियाभर की बात करें तो 54,58,479 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं। इसमें से 3,45,157 की मौत हुई है। वहीं, भारत दुनिया के टॉप-10 देशों में आ गया है, जहां कोरोना वायरस के मामले सबसे अधिक हैं।

– देश में कोरोना वायरस मरीजों की संख्या एक लाख 40 हजार के पास पहुंच गई है। अब तक कुल 138845 मरीज मिल चुके हैं। इसके अलावा मरने वालों की संख्या 4021 हो चुकी है।

– दिल्ली के निजी अस्पतालों में 20 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित होंगे। दिल्ली सरकार ने कुल 117 अस्पतालों के लिए आदेश जारी किया है। यह उन्हीं अस्पतालों पर लागू होगा जहां पर 50 या उससे अधिक बेड उपलब्ध होंगे।

– दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा कि मरीजों की संख्या को देखते हुए बेड बढ़ाने की जरूरत थी। आदेश में गैर कोविड मरीजों के लिए भी 25 फीसदी बेड़ की संख्या बढ़ाने की भी अनुमति दी है। अस्पताल जगह के हिसाब से चाहें तो अपना यहां बेड की संख्या बढ़ा सकते हैं। सरकार ने कहा कि कोरोना मरीजों के इलाज के लिए सरकार हर संभव कदम उठा रही है। दिल्ली में अभी अस्पताल, कोविड केयर और हेल्थ सेंटर कोरोना मरीजों के लिए सात हजार से अधिक बेड उपलब्ध हैं।

– देश में कोरोना संक्रमण के मामले में लगातार हो रहे इजाफे के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने रविवार को दावा किया कि भारत ने सही वक्त पर लॉकडाउन लागू कर साहसिक कदम उठाया। इससे संक्रमण की रफ्तार थामने में मदद मिली। दूसरे विकासित देशों ने फैसला लेने में कई दिन बर्बाद किए थे।