विभिन्न मांगों को लेकर एमजीएच में प्रदर्शन

जोधपुर। महात्मा गांधी अस्पताल में संविदा पर लगे डाटा एंट्री ऑपरेटर और सफाई कर्मचारियों ने गुरुवार को अलग-अलग मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। उन्होंने कुछ देर के लिए कार्य बहिष्कार भी किया जिससे यहां एक बारगी व्यवस्था गड़बड़ा गई। बाद में प्रशासनिक अधिकारियों की समझाइश पर उन्होंने प्रदर्शन समाप्त किया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कि महात्मा गांधी अस्पताल में आज डाटा एंट्री ऑपरेटर सहित संविदा निविदा पर लगे कर्मचारी कार्य बहिष्कार करते हुए हड़ताल पर चले गए। डाटा निविदा ऑपरेटर अध्यक्ष तेजपाल यादव ने बताया कि कुछ दिन पूर्व अधीक्षक को ज्ञापन सौंप डाटा एंट्री ऑपरेटर का वेतन ऑनलाइन करने का निवेदन किया था। मथुरादास माथुर व उम्मेद अस्पताल के डाटा एंट्री ऑपरेटर का वेतन ऑनलाइन भुगतान करना शुरू कर दिया गया है जबकि महात्मा गांधी अस्पताल व पावटा सेटेलाइट अस्पताल के डाटा एंट्री ऑपरेटर का वेतन ऑनलाइन नहीं किया गया। इसके संबंध में ही आज सुबह संविदा पर लगे डाटा ऑपरेटरों को बिना वजह नौकरी से निकाल दिया गया। इन निकाले गए डाटा एंट्री ऑपरेटर के समर्थन में अन्य डाटा एंट्री ऑपरेटर भी कार्य बहिष्कार करते हुए हड़ताल पर आ गए। इनके हड़ताल पर जाने से अस्पताल की व्यवस्था चरमरा गई। बाद में अधिकारियों द्वारा बाहर निकाले गए ऑपरेटरों को वापस काम पर लौटने का आश्वासन दिया गया तब प्रदर्शनकारी ऑपरेटर काम पर लौटे।

वहीं यहां संविदा पर लगे सफाई कर्मचारियों ने भी प्रदर्शन किया। उनकी पीएफ आदि सुविधाआें की मांग थी। साथ ही उन्होंने अस्पताल की लिफ्ट खराब होने पर भी विरोध जताया। उनका कहना था कि लिफ्ट खराब होने से भारी सामान ले जाने में दिक्कत होती है। उन्होंने समय पर वेतन नहीं मिलने का आरोप भी लगाया। इन दोनों प्रदर्शन के कारण एक बार अस्पताल के कामकाज पर भी असर पड़ा। डाटा एंट्री ऑपेरटरों के प्रदर्शन के दौरान काफी समय तक वहां मरीजों को पर्ची बनवाने के लिए कतार में खड़े होकर इंतजार करना पड़ा। वहीं सफाई कर्मचारियों के प्रदर्शन के कारण सफाई व्यवस्था चरमरा गई।

Leave your vote

500 points
Upvote Downvote