DNH-DD : कोविड -19 की रोकथाम के लियें प्रशासन द्वारा अपनायी जा रही है (5 टी) की रणनीति।

0
166
दमन-दीव व दानह की जनता को विकास से अधिक नोकरी की आवश्यकता! | Kranti Bhaskar image 1
Daman Job Silvassa Job

सिलवासा। सम्पूर्ण  भारत में  तेजी से कोविड -19  का संक्रमण बढ़ रहा है। अब तक प्रदेश  मे भी संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 93 पहुंच गई है। जिसमे से 28 लोग संक्रमण मुक्त हो गए है एवं उन्हे डिस्चार्ग किया गया है । प्रदेश मे अभी तक कोविड 19 के 65 एक्टिव मरीज है सभी का स्वास्थ्य ठीक है एवं उन्हे किसी भी प्रकार के लक्षण नहीं है । प्रदेश मे अभी तक कोई भी कोविड -19 के मरीज की मृत्यु नहीं हुई है ।  कोविड -19 की रोकथाम के लियें प्रशासन संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली एवं दमन  दीव  द्वारा  5 टी रणनीति अपनायी  जा रही है | इस रणनीति  का पहला स्तम्भ है कोविड -19 के मरीज़ो  की टेस्टिंग | प्रदेश में बाहर से आने वाले लोगो  की, कोविड -19 के संदिघ्ध मरीज़ो, कोविड -19 के मरीज़ के संपर्क  में आये लोगो के  साथ -साथ दुकान वालो  की  कोविड -19 की जाँच कराई  जा  रही है | अब तक प्रदेश में 28000 से अधिक लोगो की कोविड -19 की जाँच की जा  चुकी  है केवल  0.2 % लोग  ही कोविड -19 से संकर्मित पाये  गये  है |

रणनीति  का दूसरा स्तब्ध  है कोविड -19 के संदिघ्ध  संक्रमितों की ट्रेसिंग, इस के अंतर्गत बाहर से आए हुए लोगो के लिए फैसिलिटी क्वारंटाइन की सुविधा प्रदान की गई है । संक्रमित मरीजो के संपर्क मे आए लोगो की जल्दी चिन्हित करने के लिए टीमों का गठन किया गया है । उन्हे अलग रखने के लिए भी उपयुक्त  फैसिलिटी क्वारंटाइन की व्यवस्था की गई है। जिस कारण प्रदेश मे जल्दी से जल्दी संक्रमित लोगो की पहचान हो रही है और संक्रमण को रोकने मे मदद मिल रही है।

रणनीति के तीसरा स्तंभ है संक्रमित रोगियो का ट्रीटमेंट, इसके अंतर्गत संक्रमित रोगियो के लक्षणो एवं स्वास्थ्य स्थिति को देखते हुए थ्री टायर सिस्टीम की गई है । जिसमे कोविड हॉस्पिटल, कोविड हेल्थ सेंटर एवं कोविड केयर सेंटर बनाए गए है । इन सभी सेंटर मे प्रशिक्षित लोगो को नियुक्त किया गया है एवं भारत सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार उन्हे समय समय पर प्रशिक्षित किया जा रहा है । यही कारण है प्रदेश मे एक भी व्यक्ति की मृत्यु कोविड के कारण नहीं हुई है।

रणनीति का चौथा स्तंभ है टीम वर्क इसके अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग , प्रशासन, पुलिस, जिला पंचायत, म्यूनसिपल काउंसिल एवं अन्य विभागो की मदत से कोविड के रोकथाम के लिए प्रयास किए जा रहे है । स्वास्थ्य विभाग कोविड के मरीजो की पहचान तथा उनका उपचार, लोगो की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए इम्यून बूस्टर (आर्सेनिक अल्बम) का वितरण  कर रहे है।  पुलिस विभाग प्रदेश मे कंटेनमेंट झोन को स्ट्रीक्ट मॉनिटर कर रहे है । जिला पंचायत एवं  म्यूनसिपल काउंसिल प्रदेश के लोगो मे कोविड के प्रति जागरूकता एवं सोशल डिस्टन्स के पालन करवा रहे है ।

आखरी स्तंभ है ट्रैकिंग एंड मॉनिटरिंग इसके अंतर्गत प्रशासन प्रदेश के घर घर जाकर लोगो का सर्वे कर रहे है । जो भी व्यक्ति होम क्वारंटाइन मे है उसके घर पर स्वास्थ्य विभाग, पुलिस, जिला पंचायत, म्यूनसिपल काउंसिल के लोग जाकर स्ट्रीक्ट क्वारंटाइन एवं मॉनिटरिंग कर रहे है। होम क्वारंटाइन लोगो के निगरानी के लिए कॉल सेंटर से कॉल करके उनके स्वास्थ्य की निगरानी भी की जा रही है ।

कोरोना वायरस के सम्बन्ध में सही जानकारी के लिए अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र, प्रदेश हेल्पलाइन -104, राष्ट्रीय हेल्पलाइन-1075, आपदा प्रबंधन-1077 अथवा वाट्सएप्प  नंबर +917211162132  पर संपर्क करे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here