भ्रष्टाचार की जांच करने आए अफसरों पर बरसाईं गोलियां, ADEO की मौत

भ्रष्टाचार। मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार की शिकायत पर जांच से जुड़ा एक अजीबो गरीब मामला सामने आया है। मुरैना जिले के पंचायत में भ्रष्टाचार की जांच करने गए जनपद पंचायत जौरा की टीम की गाड़ी का पीछा कर सरपंच पति ने अपने साथियों के साथ मिलकर बीच सड़क पर फिल्मी अंदाज में तोबड़तोड़ गोलियां चला दीं। जिससे कार में सवार जनपद जौरा के एडीईओ (सहायक विकास विस्तार अधिकारी) की शिवचरण शाक्य की मौत हो गई। वहीं दो सहकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए।

बताया जाता है कि मुरैना जिले की जौरा जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत नंदपुरा में सड़क व खरंजा निर्माण में लाखों रुपए के भ्रष्टाचार की शिकायतें मिल रही थीं। इस पर जनपद के पंचायत इंस्पेक्टर (ADEO) शिवचरण शाक्य अपने सहकर्मियों, जगन्नाथ सिकरवार निवासी दुर्गापुरी कॉलोनी मुरैना, सुभाष सिकरवार निवासी नंदपुरा को साथ लेकर शिकायत की जांच करने आए। देर शाम वे जांच करके कार में सवार होकर लौट रहे थे।

रास्ते में जौरा थाना इलाके बिलगांव गांव के पास पंचायत के सरपंच पति कल्ला उर्फ राज किशोर सिकरवार ने अपने साथियों के साथ मिलकर जांच दल व शिकायतकर्ता पर बंदूकों से हमला बोल दिया। ताबड़तोड़ गोलियां चलतीं देख जांच दल अपनी कार से भागने लगे तो आरोपियों ने उनका पीछा किया और फिल्मी अंदाज में अंधाधुंध फायरिंग करते रहे। फायरिंग में शिवचरण शाक्य की मौके पर ही मौत हो गई। मुरैना एसएपी अशित यादव ने बताया कि फायरिंग में एक की मौत हो दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। नामजद मामला दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

Leave your vote

500 points
Upvote Downvote