चार स्कूलों के हजारों विद्यार्थी बने वल्र्ड रिकॉर्ड में सहयोगी

जोधपुर। यूनाइटेड नेशनस ऑर्गेनाइजेशन से संबंद्ध इंटरनेशनल एसोसिएशन ऑफ स्टूडेंटस एंड कमर्शियल साइंसेज (आईसेक), यूनिसेफ तथा प्रोजेक्ट एवरी वन की ओर से चलाए जा रहे गोल्स प्रोजेक्ट के तहत सनसिटी के चार विद्यालयों के हजारों विद्यार्थी लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में सहयोगी बनें।

आईसेक के अध्यक्ष कौस्तुभ गुप्ता, उपाध्यक्ष अमन मालवीय ने बताया कि  शान्ति निकेतन स्कूल, महेश पब्लिक स्कूल, आरएसएम इंटरनेशनल स्कूल व बोधि इंटरनेशनल स्कूल में करीब डेढ़ हजार छात्र-छात्राओं को प्रोजक्ट के बारे में बताया तथा उसे हासिल करने के लिए प्रोत्साहित किया।  अभियान को सफल बनाने में तारिणी, अंशुल, सार्थक, रितु, अमन, लक्ष्य, जयवर्धन, मेघा, मूमल, श्रेयांस, प्रांशु, ईशा, सिमरन, निखिल, श्रेया, युवराज, टिवकंल, तेजवीर, तेजेन्द्र, प्रवीण, प्रतीक, प्रदीप, हरेन्द्र, अभिषेक व देवेश ने सहयोग दिया। इस अवसर पर पार्क प्लाजा एंड होटल्स के सुनील तलवार, सेन्ट्रल एकेडमी के निदेशक अंकित मिश्रा, बोथरा इंटरनेशनल के नरेश बोथरा, उम्मेद क्लब के सचिव तथा विजयलक्ष्मी हाईटस के डायरेक्टर विनय कवाड तथा व्यास संस्थान के मनीष व्यास सलाहकार के तौर पर मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि आईसेक, प्रोजेक्ट एवरीवन और यूनिसेफ के सहयोग से यह अभियान देश के 27 शहरों की स्कूलों में एक साथ आयोजित किया गया जिसमें तकरीबन 60 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं ने शिरकत की। वहीं 5 हजार स्वयंसेवी कार्यकर्ताओं ने सहयोग दिया।

Leave your vote

500 points
Upvote Downvote