अब तक हाथ नहीं आया जोधपुर का हिस्ट्रीशीटर विकास विश्नोई

90
अब तक हाथ नहीं आया जोधपुर का हिस्ट्रीशीटर विकास विश्नोई | Kranti Bhaskar
Vikash Vishnoi Jodhpur

जोधपुर। शहर और ग्रामीण एरिया में फायरिंग कर दहशत फैलाने वाले हिस्ट्रीशीटर विकास विश्नोई का आज भी पता नहीं लगा। जोधपुर पुलिस कमिश्नरेट व ग्रामीण पुलिस उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही है। पांच स्थानों पर फायरिंग कर फरार होने के बाद उसके विरोधी गुट ने रविवार को उसका भी घर फूं क डाला और गाडिय़ों को क्षतिग्रस्त किया था। पुलिस की विशेष टीमें बनाकर उसके पीछे लगाई गई है। सनद रहे कि शहर के निकटवर्ती लूणावास खारा, पीपाड़ सिटी और हुणगांव में शनिवार को एक के बाद एक लगातार पांच  जगहों पर फ ायरिंग करने वाले डांगियावास थाने के हिस्ट्रीशीटर विकास विश्नोई के रुडक़ली गांव में स्थित बंद मकान पर रविवार को कुछ लोगों ने धावा बोल दिया था। हमलावरों ने घर की मुख्य फाटक तोड़ घर के दरवाजे तोड़ डाले और भीतर आग लगा दी। इसके साथ ही अहाते में रखे दो वाहन भी फूंक डाले।

ग्रामीण इलाकों में पुलिस का सर्च अभियान जारी

शनिवार को डांगियावास थाने के हिस्ट्रीशीटर विकास विश्नोई और उसके साथी खोखरिया निवासी सुरेश डूडी पुत्र रूपाराम ने झंवर थाना क्षेत्र के लूणावास खारा में छोटूसिंह पुत्र श्रवणसिंह की शराब दुकान पर हमला कर फ ायरिंग की थी। दोनों बदमाशों ने छोटूसिंह और उसके भाई रिछपालसिंह पर हमला किया था। आरोपियों ने ठेकेदार की कार व दुकान पर गोलियां चलाई और वहां से भाग गए। इसके बाद दोनों बदमाशों ने हुणगांव में रामदयाल चौधरी को गोली मारी। गंभीर हालत में उसे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। इसी तरह इन्हीं बदमाशों ने पीपाड़ सिटी में भी रामचंद्र विश्नोई के घर पर भी फायरिंग की थी। डांगियावास थानाधिकारी सुरेश चौधरी ने बताया कि शनिवार को विकास विश्नोई द्वारा तीन जगहों पर फयरिंग की घटनाओं को अंजाम देने के अलावा भी दो अन्य स्थानों पर फयरिंग करने की जानकारी सामने आई है। इसके बाद किसी विरोधी गुट ने विकास के रुडक़ली स्थित बंद मकान पर धावा बोल दिया और यहां रखे एक ट्रैक्टर और एक दुपहिया वाहन को भी आग लगा दी। इधर आज झंवर थानाधिकारी जबर सिंह ने बताया कि आरोपी विकास विश्नोई की सरगर्मी से तलाश जारी है, फिलहाल उसका सुराग हाथ नहीं लगा है।