पंखे से झूल गया बिल्डर, सुसाइड नोट में लिखा- पैसों के लेन-देन से परेशान हूं

शहर के जाने-माने बिल्डर अनिल अग्रहारकर ने गुरूवार को पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली। मित्र विहार कॉलोनी के रहने वाले 55 साल के अनिल अग्रहारकर कॉन्फेडरेशन ऑफ रियल एस्टेट डेवलपर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के औरंगाबाद चैप्टर के कोषाध्यक्ष थे।

जिम में की आत्महत्या
पुलिस अधिकारियों ने मामले की जानकारी देते हुए बताया है कि, अग्रहारकर शहर की कुछ सबसे बड़ी परियोजनाओं का विकास कर रहा था। जवाहर नगर पुलिस निरीक्षक संतोष पाटिल ने प्रारंभिक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि, अग्रहारकर अपने रोजाना के कार्यक्रम के अनुसार सुबह अपने बंगले की तीसरी मंजिल पर स्थित जिम में गया था। कुछ समय बाद, परिवार का एक सदस्य जिम में गया, जिसने अग्रहारकर को छत के पंखे से लटका हुआ पाया। परिवार के अन्य सदस्य और घरेलू सहायिका जिम में पहुंचे और उसे पंखे से नीचे उतारा और वे अग्रहारकर को अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़ें-  कांग्रेस ने खोया युवा और किसानों का भरोसा: गहलोत

पैसे के लेन-देन के कारण तनाव में था मृतक
संतोष पाटिल ने मामले की जानकारी देते हुए आगे कहा है कि, परिवार के सदस्यों को अग्रहारकर के पास से एक डायरी भी मिली है, जिसे परिवार ने बिल्डर का सुसाइड नोट बताया है। परिवार ने बताया है कि, अग्रहारकर पैसे के लेनदेन के कारण तनाव में था। अग्रहारकर के भाई ने पुलिस को बताया है कि, वह बिल्डर का अंतिम संस्कार करने के बाद आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज करेंगे। अग्रहारकर के परिवार में उनकी पत्नी और दो बच्चे हैं। फिलहाल पुलिस मामले की हर पहलू से जांच कर रही है।