प्रदेश में बढ़ रहा है जहरीली व हथकढ़ी शराब का अवैध कारोबार

जयपुर। प्रदेश में हथकढ़ी और मिलावटी शराब बनाने का कारोबार बड़े पैमाने पर पुलिस व प्रशासन की नाक के नीचे होता आ रहा है। इसका ताजा उदाहरण है भीलवाड़ा जिले के माण्डलगढ़ थाना क्षेत्र के सारण का खेड़ा गांव, जहाँ जहरीली शराब पीने से चार लोगों की मौत हो गई और 5 अन्य गंभीर रूप से घायल है। पिछले दिनों भरतपुर में भी जहरीली शराब पीने से 9 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अवैध शराब के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश भी दिये थे लेकिन आबकारी विभाग की ढीली कार्यवाही के चलते अवैध और जहरीली शराब अब भी बेरोकटोक बिक रही है।

ये भी पढ़ें-  जोधपुर में रूट मार्च में पुलिस पर की पुष्प वर्षा, थाली-ताली से हुआ सम्मान

भीलवाड़ा जिले के माण्डलगढ़ थाना क्षेत्र में हुई मौत के बाद आज पुलिस विभाग ने कार्यवाही करते हुए अजमेर जिले की तहसील ब्यावर की सांसी बस्ती एवं ग्राम मेडिया में छापा मारा जिसमें पुलिस ने शराब की अवैध भटिट्यां तोड़ी तथा 1500 लीटर शराब नष्ट की।