पुलिस के खिलाफ जाम किया हाईवे

जोधपुर। जिले के बाप थाना क्षेत्र से पांच दिन पहले शादी की नीयत से एक युवती को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने के मामले में पुलिस द्वारा उचित कार्रवाई नहीं करने से क्षुब्ध परिजनों व ग्रामीणों का रविवार को थाने के समक्ष धरना जारी रहा। धरनार्थियों ने आरोप लगाया कि इस मामले में जांच अधिकारी व पुलिस उचित कार्रवाई नहीं कर रही है। अभी तक युवती को भगा ले जाने वाले युवकों के परिजनों को भी पूछताछ के लिए नहीं बुलाया गया है। घटना के पांच दिन भी पुलिस को कोई अहम सुराग हाथ नहीं लगा है।

रविवार सुबह करीब साढ़े दस बजे धरनार्थियों ने हाईवे जाम कर प्रदर्शन किया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जाम खुलवाया तथा वाहनो की आवाजाही प्रारंभ करवाई। कस्बे के मुख्य बाजार, वर्तमान बस स्टैंड, कानासर चौराहा व बाप फांटा रविवार को आधा दिन बंद रहा। बंद के कारण दूर-दराज के गांवों से कस्बे में खरीदारी के लिए आए ग्रामीणों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। रविवार दोपहर बाद विधायक पब्बाराम विश्नोई, डिप्टी पारस सोनी, सीआई कैलाशदान चारण व फलोदी शहर कांग्रेस अध्यक्ष पन्नालाल व्यास धरनास्थल पर पहुंचे। डिप्टी सोनी ने बताया कि पुलिस इस मामले में उचित कार्रवाई कर रही है। जल्द ही युवती को भगाने वाले आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने आमजन से सहयोग की अपील की। पुलिस ने दो दिन में इस मामले का खुलासा करने का आश्वासन दिया। विधायक विश्नोई व कांग्रेस शहर अध्यक्ष व्यास ने धरनार्थियों से कहा कि यदि दो दिन में आरोपी गिरफ्तार नही हुए तो हम भी धरना देकर आपका साथ देंगे। इस पर धरनार्थियों ने धरना स्थगित करने की घोषणा की। धरने में पूर्व सरपंच जगदीश पालीवाल, भाजपा मंडल बाप अध्यक्ष किशनलाल पालीवाल, सीमाजन कल्याण समिति फलोदी जिला उपाध्यक्ष अखेराज खत्री, एडवोकेट मदन शर्मा, शिक्षाविद् मोहनलाल कुमावत, भाजपा आेबीसी मोर्चा फलोदी जिला अध्यक्ष मांगीलाल प्रजापत, मुरलीधर दर्जी, भाजपा नेता हरी माडपुरा, मनोज पुरोहित, नारायण कुमावत, गज्जेलाल कुमावत, रूघनाथ कुमावत, सुबेदार टीकुराम भील, महेश्वरी समाज पूर्व अध्यक्ष आेमप्रकाश राठी आदि उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें-  राष्ट्रपति से केजरीवाल की शिकायत, 30 पूर्व आईपीएस अफसरों ने चिट्ठी लिखकर बताई पूरी बात