किसी भी बच्चे की अपनी पहली जरूरत अपना परिवार है : पूजा जैन

किसी भी बच्चे की अपनी पहली जरूरत अपना परिवार है : पूजा जैन | Kranti Bhaskar image 1
Adoption Workshop DAMAN, pooja jain ias
दमण : शुक्रवार को समेकित बाल संरक्षण योजना समाज कल्याण विभाग द्वारा दत्तक ग्रहण विषय पर कार्यशाला का आयोजन दमण के देवका स्थित होटल मीरामार के सभागार में किया गया. कार्यक्रम में मुख्य रूप से समाज कल्याण विभाग की सचिव पूजा जैन एवं दमण समाहर्ता व निदेशक संदीप कुमार मौजूद थे. इस अवसर पर पुजा जैन ने कहा कि किसी भी बच्चे की पहली आवश्यकता उसका परिवार है और इसे पूरा करने के लिए ही आज इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. ऐसे बच्चे जो अनाथ है अथवा संरक्षण की आवश्यकता वाले है, ऐसे बच्चों को अगर परिवार मिल जाए तो उन्हें परिवार के साथ एक पहचान भी मिल जाएगी साथ ही जिन माता-पिता के बच्चे नहीं है उन्हें इन बच्चों के घर आने से खुशियां मिल जाएगी और इससभी के लिए हमें आगे आना होगा. इस दौरान समाज कल्याण विभाग के निदेशक व कलेक्टर संदीप कुमार के विशिष्ट आतिथ्य व निर्देशन में कार्यक्रम का दीप प्रज्जवलन के साथ शुभारंभ हुआ. इस मौके पर समाहर्ता ने अपने उद्बोधन में कहा कि भारत सरकार द्वारा किशोर न्याय अधिनियम-2015 के अंतर्गत जो प्रावधान किये है उसी के अनुसार बच्चों को दत्तक लेने से बच्चों को भविष्य में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होगी साथ ही उन्होंने उपस्थित सभी लोगों से अनुरोध किया कि आज की जानकारी को सिर्फ स्वयं तक सीमित न रखकर समाज के हर व्यक्ति तक पहुंचाये.
pooja jain ias Adoption Workshop DAMAN pooja jain ias Adoption Workshop DAMAN
इस अवसर पर केन्द्रीय दत्तक ग्रहण प्राधिकरण के संयुक्त निदेशक जगन्नाथ पति ने दत्तक ग्रहण यानि एडोप्शन की विस्तार से जानकारी देते हुए दत्तक ग्रहण की पूरी प्रक्रिया को समझाया कि किस प्रकार से कानूनी प्रावधानों से बालक को दत्तक लिया जा सकता है. केरिंग ऑनलाईन एवं आसान प्रक्रिया के माध्यम से किस प्रकार से बच्चों को गोद लेना है एवं बच्चा गोद लेने वालों के लिए जिला स्तर पर कौन सी एजेंसी कार्यरत है, जिसमें इच्छुक दम्पति अपना ऑनलाईन आवेदन कर सकता है. उन्होंने कहा कि निर्धारित प्रक्रिया के विरूद्ध किसी भी प्रकार से दत्तक लिया हुआ बच्चा गैरकानूनी है इसे दत्तक ग्रहण नहीं माना जाएगा.
नये दत्तक ग्रहण नियम-2017 विषय पर दमण में राज्य स्तरीय कार्यशाला का हुआ आयोजन 
इस दौरान बाल कल्याण समिति के सदस्य, किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य, पुलिस विभाग, शिक्षा विभाग, बाल विकास परियोजना से आंगनवाड़ी बहनें, चिकित्सा विभाग से अधिकारी-कर्मचारी, जिला बाल संरक्षण अधिकारी मोनिका बारड, दत्तक ग्रहण की दमण प्रोग्राम ऑफिसर तेजश्री संखे, समेकित बाल संरक्षण योजना की दमण एवं दीव की टीम उपस्थित रही.
इस संबंध में जानकारी देते हुए समेकित बाल संरक्षण योजना के प्रोग्राम मैनेजर संजीव कुमार पण्ड्या ने बताया कि नये दत्तक ग्रहण नियमन-2017 के अंतर्गत सरकार द्वारा कानूनी रूप से मान्यता प्राप्त प्रक्रिया के अधीन दत्तक ग्रहण हो, इस उद्देश्य से इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया है. ज्ञात हो कि दमण में पिछले वर्ष से यह कार्यक्रम किया जा रहा है और पिछले वर्षों के दौरान दमण के दो दम्पतियों को विभाग की सहायता से दत्तक ग्रहण करवाया गया है. वहीं दिन प्रतिदिन जागरूकता की वजह से और भी इच्छुक दम्पति विभाग में अपना आवेदन दे चुके है, जिनका आवेदन प्रक्रियाधीन है. इस संबंध में किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए विभाग के फोन नंबर 0260-2230085 पर संपर्क किया जा सकता है.