प्रमुख सहज़ में, सहजता से काले-धन का निवेश।

प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जी का सपना है की हर गरीब के पास अपना घर हो, प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अपने इस सपने को साकार करने के लिए, पूर्व में कई योजनाओं को अमलीजामा भी पहनाया, काले-धन पर प्रतिबंध लगाने के लिए नोट बंदी भी की गई, लेकिन इस सब के बाद भी बिल्डर काले-धन की लेन-देन करने से बाज़ आते नहीं दिखे।

वापी मुक्तानंद मार्ग पर प्रमुख ग्रुप का एक प्रोजेक्ट है जिसका नाम है प्रमुख सहज़। इस प्रोजेक्ट में फ्लेट खरीदने वालो से खुलेआम काले-धन की मांग की जा रही है, बिल्डर फ्लेट की बिक्री में खुले-आम काले-धन की लेनदेन कर रहा है और गरीबो की गढ़ी कमाई लूट रहा है, जिसे रोकने वाला शायद कोई दिखाई नहीं देता। बिल्डर के कार्यालय से पता चला की उक्त प्रोजेक्ट 700 फ्लेट का है, प्रोजेक्ट में, न्यूनतम 840 स्क्वेयर फिट का फ्लेट और अधिकतम 1060 स्क्वेयर फिट का फ्लेट उपलब्ध है। फ्लेट खरीदने के लिए न्यूनतम प्रति स्क्वेयर 2300 रुपये क़ीमत और अधिकतम 2450 रुपये क़ीमत बताई जाती है, फ्लेट की खरीद-बिक्री में प्रति फ्लेट 3 लाख रुपये तक नगद वसूली यानि काले-धन की लेन-देन की जा रही है, इस हिसाब से 700 फ्लेट में कितने काले धन की लेन-देन हुई इसका हिसाब अब आयकर विभाग के अधिकारियों को लगाना शुरू कर देना चाहिए।

कुल तीन श्रेणी है।
1 1060 फिट / 840 फिट 2300 रुपये
2 1060 फिट / 840 फिट 2350 रुपये
3 1060 फिट / 840 फिट 2450 रुपये

निर्माण नियमों में भी अनदेखी की चर्चा।

प्रमुख ग्रुप द्वारा बनाए जा रहे प्रमुख सजह प्रोजेक्ट में निर्माण नियमों की अनदेखी को लेकर भी बाज़ार में चर्चा जोरों पर है, जनता में सवाल है प्रमुख ग्रुप द्वारा बनाए जा रहे प्रमुख सजह प्रोजेक्ट का निर्माण प्रशासन द्वारा पास किए अप्रूव प्लान के अनुसार हुआ या बिल्डर के द्वारा पास किए गए निजी प्लान के अनुसार? इसकी जांच अब संबन्धित अधिकारियों को करनी चाहिए, साथ ही साथ उन तमाम प्रोजेक्टो की जांच भी करनी चाहिए जिनका निर्माण पूर्व में पूर्ण हो चुका है।

Leave your vote

499 points
Upvote Downvote

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of