अजब-गज़ब “दानह” एक तरफ मुफ्त में इलाज और दूसरी तरफ मुफ्त की बीमारी!

अजब-गज़ब “दानह” एक तरफ मुफ्त में इलाज और दूसरी तरफ मुफ्त की बीमारी! | Kranti Bhaskar image 1
silvassa municipal council

संध प्रदेश दानह में अब तक ना जाने कितने सफाई अभियान, स्वच्छता अभियान, स्वच्छता सप्ताह और स्वच्छता पखवाड़े चलाए गए, अधिकारियों ने कई बार शपथ भी ली, जनप्रतिनिधियों ने भी भरपूर झाड़ू हाथ में लेकर फोटो खिचवाए और अखबार में वाह वाह लूटी, लेकिन लगता है उन तमाम अभियानों से दानह नगर निगम का वार्ड संख्या-11 टोकरखाड़ा अनभिज्ञ ही रह गया।

  • बड़े आश्चर्य की बात है की एक तरफ तो स्वास्थ्य विभाग एवं श्री विनोबाभावे अस्पताल में जनता के स्वास्थ्य के लिए करोड़ों खर्च किए जा रहे है वही दूसरी और दानह में जगह जगह पड़े कुड़े-कचड़े के ढेर से जनता के स्वास्थ्य पर असर पड़ रहे है।
  • अब देखना यह है की संबन्धित विभागीय अधिकारियों की लापरवाही तथा खराब कार्यप्रणाली पर प्रशासन कार्यवाही करने के लिए कोई नया अभियान चलती है या विनोबाभावे अस्पताल का बजट बढ़ाती है!
ये भी पढ़ें-  ‘नशीली दवाओं के दुरूपयोग की रोकथाम’ पर कार्यशाला का आयोजन, दोनों मुख्य अतिथि आबकारी विभाग से।

दानह नगर निगम के, वार्ड संख्या-11, टोकरखाड़ा क्षेत्र की जो तस्वीरे सामने आई है उन्हे देखकर कही से यह नहीं लगता की दानह नगर निगम सफाई के प्रति सजग्ग है, इतना ही नहीं टोकरखाड़ा की यह चंद तस्वीरे ही काफी है यहां के हालत तथा नगर निगम के अधिकारियों व चुने हुए जनप्रतिनिधिओ की कार्यप्रणाली जानने के लिए।

silvassa municipal council silvassa municipal council silvassa municipal council silvassa municipal council silvassa municipal council silvassa municipal council

ये भी पढ़ें-  कोस्टगार्ड द्वारा जमीन अधिग्रहण का पूरजोर विरोध, मरवड पंचायत सरपंच ने प्रशासक को सौंपा ज्ञापन  

silvassa municipal council silvassa municipal council

वैसे एक तरफ प्रशासन विनोबाभावे अस्पताल में मुफ्त में इलाज कर रही है तो वही दूसरी और प्रशासनिक अधिकारियों की कामचोरी की वजह से पनपती गंदगी जनता को बीमार कर रही है। टोकरखाड़ा की जनता ने बताया की उनके वार्ड पार्षद का नाम मीनाबेन कमलेशभाई शाह है जो सवय टोकरखाड़ा में नहीं बल्कि किसी अन्य वार्ड में रहते है, जनता का कहना है की मीनाबेन शाह जनता को जनता के काम के लिए अपने पति कमलेश शाह का फोन नंबर देती है लेकिन सवय जनता की समस्याओं से रु-ब-रु नहीं होती।