देश आर्थिक मंदी से जूझ रहा है और दमण PWD करोड़ों के टेण्डर निकाल रहा है।

Executive Engineer, PWD Daman

दमण: कोरोना महामारी की वजह से जहां बड़े बड़े उधोग-कारखाने ठंडे पड़ते जा रहे है वही दमण का लोकनिर्माण विभाग (Public Works Department, Daman)  टेण्डर पर टेण्डर निकाल रईसी बयां करने पर आतुर दिखाई दे रही है। कोरोना महामारी की वजह से जहां बड़े बड़े ठेकदार टेण्डर लेने से इंकार कर रहे है वही दमण लोकनिर्माण विभाग के इंचार्ज कार्यपालक अभियंता एम-डी गोहील ने शायद यह ठान ली है की वह सरकारी तिजोरी खाली करके ही मानेंगे!

इसमे कोई दो-राय नहीं की इस वक्त देश आर्थिक मंदी का सामना करना रहा है। जनता की आम्दानी दिन प्रतिदिन नीचे आती जा रही है। अब ऐसे में यदि सरकारी निधि का दुरुपयोग होता है तो जनता जानती है की इसका खामियाजा आज नहीं तो कल जनता को अतिरिक्त टैक्स देकर ही चुकाना पड़ेगा। अब यह सब किस लिए कहा जा रहा है तो यह जानने के लिए आपको दमण-दीव की ओफिसियल वेबसाइट पर जारी टेण्डरों की टोह लेनी होगी। वैसे क्रांति भास्कर को जब जानकारी मिली तो क्रांति भास्कर की टिम ने दमण-दीव की ओफिसियल वेबसाइट खंगाली, वेबसाइट खँगालने पर पता चला की केवल चंद दिनों में दमण लोकनिर्माण विभाग (Public Works Department, Daman) के इंचार्ज कार्यपालक अभियंता एम-डी गोहील (Public Works Department, Executive Engineer ( I/c) करोड़ों के टेण्डर निकाल चुके है। दिनांक 06-05-2020 से दिनांक 24-06-2020 तक के यह कुछ टेण्डर है जो आपके सामने है।

ये भी पढ़ें-  एक मेडिकल स्टोर के लाइसेन्स की कीमत सिलवासा में 10000 रुपये!

दिनांक : 06-05-2020 को 44,86,63,771/-

दिनांक : 23-05-2020 को 44,86,63,771/- (2nd Call )

दिनांक : 23-05-2020 को 33,75,72,361/-

दिनांक : 10-06-2020 को 33,75,72,361/- (2nd Call )

दिनांक : 09-06-2020 को 13,61,25,185/- (2nd Call )

दिनांक : 09-06-2020 को  5,24,74,147/-

दिनांक : 09-06-2020 को  3,31,23,644/-

दिनांक : 24-06-2020 को  5,24,74,147/- (2nd Call )

दिनांक : 09-06-2020 को  3,31,23,644/- (2nd Call )

ये भी पढ़ें-  संदीप कुमार बने दानह के नए कलेक्टर, दमण कलेक्टर का प्रभार, राकेश कुमार के पास।

अब सोचने वाली बात यह है की क्या इस वक्त वाकई सड़कों के निर्माण ओर विस्तार की आवश्यकता है? यह सवाल इस लिए क्यों की हाल में दमण के किसी क्षेत्र में किसी प्रकार के ट्राफिक की समस्या नहीं है ऐसे में इस वक्त जहां देश आर्थिक मंदी से झुंझ रहा है, धन की कमी के चलते सरकार बार बार पेट्रोल डीज़ल के दाम बढ़ा रही है ऐसी स्थिति में किसी प्रकार की बचत करने के बजाए टेण्डर पर टेण्डर निकालना कहा तक सही है?

संध प्रदेश दमण-दीव के राजनेताओं को आगे आकार प्रशासन से इस मामले में सवाल करना चाहिए साथ ही साथ जब तक देश ओर जनता के आर्थिक हालातों में सुधार नहीं होता तब तक के लिए ऐसे प्रोजेक्टों को लंबित रखना चाहित ऐसी मांग अब कुछ प्रबुद्ध लोग कर रहे है।

ये भी पढ़ें-  सालो तक सोते रहे, जब उठे तो पता चला सभी एक साथ दोषी हो गए!

वैसे आपको बता दे की दमण लोकनिर्माण विभाग (Public Works Department, Executive Engineer ( I/c) के इंचार्ज कार्यपालक अभियंता एम-डी गोहील को कुछ लोग उक्त विभाग के कार्यपालक अभियंता पद हेतु योग्य नहीं समझते! इसका कारण यह है की नियमानुसार कार्यपालक अभियंता पद का प्रभार, उसी अभियंता को दिया जा सकता है जो नियमित तौर पर सहायक अभियंता का प्रभार संभाल रहा हो, लेकिन दमण लोकनिर्माण विभाग के इंचार्ज कार्यपालक अभियंता एम-डी गोहील के साथ ऐसा नहीं है अभियंता एम-डी गोहील संघ प्रदेश दमण-दीव के ऐसे पहले कनीय अभियंता है जिनहे दमण लोकनिर्माण विभाग के इंचार्ज कार्यपालक अभियंता का प्रभार दे दिया गया। खेर उक्त मामला अलग है और टेण्डर का मामला अलग है लेकिन उक्त दोनों मामलों को देखकर लगता है की जरूर दाल में कुछ काला है।