वापी हिंसा निवारण संघ ने भेड़-बकरियों से भरा ट्रक पकड़ा

वापी हिंसा निवारण संघ ने भेड़-बकरियों से भरा ट्रक पकड़ा | Kranti Bhaskar
Vapi Hinsa Niwaran Sangh
वापी हिंसा निवारण संघ ने शुक्रवार को पारडी नेशनल हाईवे पर से गुजर रहे क्रूरतापूर्वक भरे भेड़-बकरियों की ट्रक को रोककर पारडी पुलिस के हवाले कर दिया है. यह सभी भेड़-बकरियों को कत्लखाना मुंबई ले जाया जा रहा था. पशुओं के हेराफेरी के कायदा का उल्लंघन करने पर पुलिस ने चार को गिरफ्तार किया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार वेलफेयर बोर्ड इंडिया द्वारा नियुक्त हुए मानद पशु अधिकारी एवं हिंसा निवारण संघ वापी के प्रमुख राजेश हस्तीमल शाह एवं उनके मित्र वल्लभ उर्फ विशाल रामजीभाई आहीर शुक्रवार सुबह वापी से वलसाड की तरफ आ रहे थे. रास्ता में उन्हें पशुओं को क्रूरतापूर्वक भरे गये ट्रक नजर आयी तब उन्होंने वलसाड जिला पुलिस कंट्रोल को सूचित किया. अतुल हाईवे से पारडी की तरफ जाने पर पारडी पुलिस को भी सूचित कर ट्रक का पीछा करते हुए तुलसी होटल के पास ट्रक संख्या जीजे-९-जेड-९३७८ को पकड़ लिया. इसके बाद मौके पर पुलिस भी पहुंची एवं ट्रक की तलाशी ली गयी तो ट्रक में भेड़-बकरियां मिली. खचाखच भरे भेड़-बकरियों में कई घायल हो गये थे, ट्रक में फस्र्ट एड की भी सुविधा नहीं थी. ट्रक में सवार लोगों ने आरटीओ मोडासा का १८८ भेड-बकरियों को भरने का प्रमाण-पत्र दिया लेकिन ट्रक में करीब २५० भेड़-बकरियां मिली. जिसके बाद पशु हेराफेरी के कायदा का उल्लंघन करने पर पुलिस ने हबीब सुमान खान सिंधे, रहवासी-मोडासा अरवल्ली के साथ ही हनीफ सागरखान सिंधे, बिलाल हबीब एवं अैयुब खान, तीनों रहवासी-जालोर राजस्थान को गिरफ्तार किया. यह सभी भेड़-बकरियों को राजस्थान के बाडमेर जिला में से भरकर मुंबई के देवनार कत्लखाना ले जाने की जानकारी मिली है. इस मामले में पुलिस आगे की जांच कर रही है.