क्रिकेट स्टेडियम के बाद मोदी के नाम पर अब मेडिकल कॉलेज, गुजरात में तैयारी

गुजरात के अहमदाबाद में क्रिकेट स्टेडियम का नाम ‘नरेंद्र मोदी’ रखे जाने के बाद अब एक मेडिकल कॉलेज को भी पीएम से जोड़ने की तैयारी है। अहमदाबाद म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (एएमसी) ने मणिनगर में स्थित मेडिकल कॉलेज का नामकरण नरेंद्र मोदी के नाम पर करने का फैसला लिया है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि हाल ही में एएमसी की स्टैंडिंग कमिटी की बैठक में यह फैसला हुआ है।

मेडिकल कॉलेज में मौजूदा समय में एमबीबीएस और पोस्ट ग्रैजुएट (पीजी) कोर्स कराया जाता है। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री रहते हुए नरेंद्र मोदी ने ही इस कॉलेज की परिकल्पना की थी। 2009 में उन्होंने इसका उद्घाटन किया था। तब इसमें 150 सीटें थी। अब यहां 220 सीटें एमबीबीएस की और 170 सीटें एमडी/एमएस की हैं।

ये भी पढ़ें-  गिरता रुपया, बढ़ती महंगाई, गांव हो या शहर, हर जगह दिखेगा असर

14 सितंबर को एएमसी एमईटी की एग्जिक्युटिव कमिटी की बैठक में यह फैसला लिया गया। इसके बाद इस फैसले को एएमसी की स्टैंडिंग कमिटी के पास भेजा गया था। मोदी 11 साल से अधिक समय तक मणिनगर विधानसभा सीट से विधायक रह चुके हैं। गुजरात का मुख्यमंत्री बनने के बाद मोदी ने दिसंबर 2002 में पहली बार यहां से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की थी। यह फैसला ऐसे समय पर लिया गया है जब कुछ ही महीने बाद गुजरात में विधानसभा चुनाव है। माना जा रहा है कि मेडिकल कॉलेज के नामकरण को लेकर राजनीति भी गरमा सकती है। स्टेडियम का नाम भी पीएम मोदी के नाम पर रखे जाने के दौरान बीजेपी को विपक्ष की आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था।

ये भी पढ़ें-  अंतरराष्ट्रीय फोटोग्राफी प्रतियोगिता की जजिंग की

अहमदाबाद नगर निगम के फैसले का विपक्ष के नेता शहजाद खान ने विरोध किया। खान ने कहा कि चुनाव आ रहे हैं, इसलिए भाजपा नाम बदलने में लग गई। एक व्यक्ति को खुश करने के लिए ये सब किया जा रहा है। खान ने कहा कि नाम बदलने से मेडिकल कॉलेज की स्थिति में सुधार नहीं होगा। निगम वहां पर मरीजों की तकलीफों को दूर करे।

ये भी पढ़ें-  सेंसेक्स, निफ्टी ट्रेड volatile; ल्यूपिन, बायोकॉन स्टॉक डुबकी