रखोली में कबाड़ को लेकर फैक्ट्री मैनेजर की पीटाई, प्रशासक के आदेशों की सरेआम उड़ाई जा रही हैं धज्जियां

लुहारी टाइम्स, सिलवासा। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली और दमण दीव के प्रशासक प्रफुल्ल पटेल ने कुछ दिनों पहले ही तिनो जिलों में स्थित औद्योगिक इकाइयों की सुरक्षा के लिए उद्योगों से निकलने वाले कबाड़ को लेकर जरूरी दिशानिर्देश जारी किए हैं। लेकिन इसके एक सप्ताह बाद ही प्रशासक के आदेशों का रखोली की एक औद्योगिक इकाई में सरेआम उल्लंघन किया गया। जानकारी के अनुसार रखोली स्थित नैशनल प्लास्ट नामक कंपनी में भंगार निकालने को लेकर उस समय विवाद हो गया जब महेंद्र राजपुरोहित नामक शख्स का ड्राइवर कंपनी से भंगार निकाल रहा था तभी स्थानीय जनप्रतिनिधि दीपक प्रधान के सहयोगी अमित परमार ने इसका विरोध किया और देखते ही देखते मामला बिगड़ने के बाद कंपनी प्रबंधक श्री पाठक की पीटाई कर दी गई। हालांकि हालात बिगड़ने के बाद स्थानीय पुलिस की टीम ने स्थल पर पहुंचकर आगे की जांच शुरू कर दी है।
अब सवाल उठता है कि पारदर्शि प्रशासन चलाने वाले प्रशासक प्रफुल्ल पटेल के आदेशों का दानह में सरेआम उल्लंघन करने के बाद फैक्टरी मैनेजर की पीटाई कर दी जा रही हैं। ऐसे में अगर सख्त जांच पड़ताल नहीं हुई तो ये प्रदेश के उद्योगपतियों के लिए परेशानी बन सकता है। बता दें कि प्रशासक की ओर से हफ्ता वसूली और कबाड़ के अवैध गोरखधंदे पर लगाम कसने के लिए कुछ दिनों पहले ही जरूरी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं, लेकिन फिर भी इस तरह की घटना सामने आना कहीं न कही प्रशासन की ही लापरवाही सामने ला रही है। इस घटना के बाद कंपनी प्रबंधक सदमे में है और डर के कारण कुछ भी बोलने को तैयार नही। शुक्रवार की घटना के बाद स्थानीय उद्योगपतियों में सवाल उठाया जा रहा है कि अगर प्रशासन की लापरवाही और जनप्रतिनिधियों की दादागिरी इसी तरह आगे भी चलती रही तो वह दिन दूर नहीं जब यहां के उद्योग धीरे-धीरे पलायन करते नजर आएंगे। समाचार लिखे जाने तक कंपनी प्रबंधन की ओर से रखोली आउट पोस्ट में शिकायत दर्ज कराने की कार्रवाई चल रही है। हालांकि दानह पुलिस की ओर इस संदर्भ में गिरफ्तारी और एफआईआर से संबंधित जानकारी जारी नहीं की गई है।