दमण में शार्प शूटरों का आतंक, जनता में भय का माहौल।

दमण। अभी न्याय के लिए अजय और धीरु कि आत्माएँ न्याय का मिलने का इंतजार कर ही रही थी कि बे-रहम कातिलों ने एक और को मौत के घाट उतार दिया। 02 मार्च 2020 शाम के समय दमण नगर निगम के पूर्व काउंसिलर को उसके शो-रूम में घुसकर गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है। इस कत्ल के पीछे क्या वजह रही और कातिल कौन है यह पता लगाने के लिए पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। लेकिन इस तरह खुलेआम हुई हत्या कही ना कही प्रशासन कि कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े करती है। एब ऐसा इस लिए क्यो कि अजय पटेल और अजय के साथी कि हत्या भी इसी तरह खुलेआम कि गई थी और अब सलीम मेमन कि हत्या भी इसी तरह खुलेआम हुई है। अजय पटेल और अजय के साथी कि हत्या दाबेल के मुख्य मार्ग पर स्थित विशाल बार एंड रेस्टोरेन्ट में कि गई और सलीम मेमण कि हत्या नानी दमण के मुख्य मार्ग स्थित उसी के शोरूम में घुसकर कि गई। उक्त दोनों हत्याओं से एक बात तो साफ है कि दमण और दमण के आस पास कई शार्प शूटर है और जिसकी जानकारी पुलिस को ठीक उसी तरह नहीं है जैसे मटके और जुए के अड्डो कि जानकारी नहीं होती है।

ये भी पढ़ें-  इन दोनों संध प्रदेशों में नियम-कानून का नहीं प्रशासक का राज चलता है!

salim memon daman

salim memon daman
salim memon daman

खेर मामला है जान का और वो जा चुकी है, अब लौट कर नहीं आ सकती। किसने सोचा था कि अजय और उसके साथी कि हत्या में एक दर्जन गिरफ्तारियों के बाद पुनः कोई खुलेआम हत्या करने कि जुर्रत करेगा। लेकिन 02 मार्च शाम के लगभग 7.15 बजे के आस-पास नानी दमण खारीवाड मुख्य मार्ग पर स्थित सलीम मेमण के रॉयल सुजुकी बाइक्स के शो रुम में घुसकर शार्प शूटरों ने सलीम मेमण पर एक के बाद एक 3 गोलिया दाग दी। इस घटना की जानकारी मिलते ही दमण पुलिस की टीम तुरंत घटनास्थल पर पहुंची और घायल सलीम मेमण को सरकारी अस्पताल मरवड पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने जांच करके सलीम को मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद दमण के साथ साथ दमण के आस पास के क्षेत्र में भी काफि भय का माहौल बना हुआ है। क्यो कि खुलेआम हत्या का यह दूसरा मामला है। इससे पहले अजय पटेल और उसके साथी कि हत्या में अभी तक पुलिस जांच कर ही रही थी कि एक और दिल दहलाने वाली हत्या को अत्यारों ने अंजाम दे दिया गया।