CAA के खिलाफ जिले में कई जगहों पर व्यापारिक प्रतिष्ठान रहे बंद, मामलतदार को ज्ञापन

85

वापी। सीएए और एनसीआर के खिलाफ बुधवार को राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा का असर वलसाड जिले में मिला जुला रहा। धरमपुर में बंद का असर ज्यादा रहा। जबकि वलसाड, वापी, उमरगाम तहसील के अन्य हिस्सों में बंद का खास असर नहीं देखा गया। जानकारी के अनुसार धरमपुर में सब्जी मंडी समेत कई विस्तार में दुकानों को बंद रखा गया था। आदिवासी व मुस्लिम संगठनों ने बंद को समर्थन देते हुए अपने प्रतिष्ठान बंद रखते हुए सीएए और एनसीआर  का विरोध किया। दूसरी तरफ वलसाड और वापी में बंद का कोई खास असर नहीं देखा गया। कहीं कहीं पर दुकान व अन्य कार्यालय बंद रखे गए थे। कई जगहों पर सीएए और एनसीआर के विरोध वाले पोस्टर चिपकाकर अपनी दुकानें व अन्य प्रतिष्ठान को लोगों ने बंद किया था। लेकिन ज्यादातर दुकाने व मार्केट रोजाना की तरह ही खुले रहे। लेकिन पुलिस द्वारा किसी भी तरह के विवाद और अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुलिस बंदोबस्त किया गया था और पेट्रोलिंग भी जारी रही। वापी में आदिवासी, मुस्लिम और दलित संगठनों ने मामलतदार को ज्ञापन भी दिया। जिसमें सीएए और एनसीआर कानून से करोड़ो लोगों को परेशानी होने की आशंका जताते हुए इसे वापस लेने की मांग की गई है।