दोनों संध प्रदेशों में सीबीआई का रेट कार्ड.. देश की सबसे विश्वसनीय जांच एजेंसी सीबीआई पर भी भ्रष्टाचार का कीचड़ उड़ रहा है।

CBI
CBI

दमन-दीव व दानह में भ्रष्टाचार कोई नई बात नहीं है, यहां भ्रष्टाचार के कई मामले दर्ज किए गए तो कई मामले अभी भी दर्ज होने बाकी बताए जाते है, दोनों संध प्रदेशों में वैसे तो कई विभाग है जिनमे भ्रष्टाचार अपने शबाब पर है, लेकिन कुछ विभाग ऐसे भी है जिनमे भ्रष्टाचार इस कदर फैला दिखाई देता है की वह इस देश की सबसे विश्वसनीय जांच एजेंसी सीबीआई पर भी भ्रष्टाचार का कीचड़ उड़ा रहा है।
बताया जाता है की दोनों संध प्रदेशों में सीबीआई का रेट कार्ड खुलेतौर पर घूम रहा है। इस रेट कार्ड का मतलब यह नहीं है की सीबीआई ने अपना रेट कार्ड छपवाकर बांट दिया हो, इस मामले में रेट कार्ड का मतलब यह है की सीबीआई के नाम से इस बात का चर्चा जारी है की दोनों संध प्रदेशों के कुछ भ्रष्ट विभाग एवं भ्रष्ट अधिकारियों को यह विश्वास दिलाया जा रहा है की उनके भ्रष्टाचार का ढ़ोल नहीं फूटेगा, तथा अगर भ्रष्टाचार करना है तो करो लेकिन कुछ हिस्सा सीबीआई को भी देना पड़ेगा, अब इस मामले में कितनी सच्चाई है और दोनों संध प्रदेशों के कोन कोन से ऐसे विभाग है जो इस प्रकार के मामले में जुड़े है, तथा सीबीआई के नाम से कोन दोनों संध प्रदेशों में यह अघोषित कार्य कर रहा है, इसकी जांच भला सीबीआई से बेहतर कोन कर सकता है।
लेकिन इस मामले में चर्चा यह भी है की यदि सीबीआई का कोई अधिकारी या सीबीआई इस प्रकार के मामले में शामिल नहीं है तो दोनों संध प्रदेशों के उन विभागों की काली कमाई और भ्रष्टाचार की जांच क्यों नहीं करती, जिन विभागों के जांच की मांग दोनों संध प्रदेशों में लम्बे समय से चली आ रही है।

ये भी पढ़ें-  डहया, केतन और जिगगु, के रेकेट का पर्दा-फ़ास!

इस मामले में कोन कोन से ऐसे विभाग एवं विभागीय अधिकारी है जिनके बारे में यह बताया जा रहा है की उन विभागों के आकाओं की काली कमाई का हिस्सा सीबीआई तक पहुचता है, उन विभागों के नाम एवं विभागीय अधिकारियों के नाम भी जल्द सामने लाएगी  www.bhuchal.com