पोलिस महिला गीता उमेश चावडा और उनके रिश्तेदारो ने नागवा बिच पर गुजरात के पर्यटको को दौडा दौडा के पिटा ।

क्या दीव पोलिस के अच्छे दिन आ गये या  पर्यटको का  पिटने के दिन आग ये दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा और उनके रिश्तेदारो ने नागवा बिच  पर  गुजरात के पर्यटको को दौडा दौडा के पिटा ।

क्या  पर्यटक स्थल दीव में अतिथि देवो भव: का सुत्र वाजिब है ?
पोलिस  जनता की मित्र होती है –  सिनियर सिटिजन दीव

दीव में  ढाई महीने का  दीव महोत्सव “ फेस्टा दे दीव “ का सुकान  दमण-दीव,दा,न,ह  पोलिस महानिर्देशक मनिश अग्रवाल को सोप कर सरकार ने  पोलिस जनता के बिच की दुरिया मिटाने का एक सुनहरा  प्रयास पर इस दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा ने पानी फेर दिया ।

दीव ( संवाददाता )   संघ प्रदेश  दीव एक सुंदर पर्यटक स्थल है, यहा हर साल  देश विदेश के लाखो की संख्या में पर्यटको अरबी समंदर की लहेरो का लुफ्त उठाने के लिये आते  है । संघ प्रदेश दीव एक सुन्दर पर्यटक स्थल होने के नाते  दीव में ५० प्रतिसद लोग विदेश में बसते है,दीव में जुर्म कम है,कम जुर्म से संघ प्रदेश दीव देश और दुनिया का कम जुर्म वाला छोटा सा प्रथम संघ प्रदेश होंगा । मगर मानो जुर्म की दुनिया में दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा ने लेडी डोन का पुरस्कार  मिल ने वाला हो ऐसा रुदबा दिखाया । दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा नागवा और उनके रिश्तेदारो ने नागवा बिच पर अहमदावाद  गुजरात के पर्यटको को दौडा दौडा के पिटकर सन सन्नी मचा दी ।
दीव में  ढाई महीने का   दीव महोत्सव-2015  “ फेस्टा दे दीव “ चल रहा है, उनका मुख्या दमण-दीव,दा,न,ह  पोलिस महानिर्देशक मनिश अग्रवाल है, वह  विदेश में जाके देशी विदेशी पर्यटको को अतिथि देवो भव: कह कर दीव में आने का न्योता दे रहे है, दुसरी और उनकी दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा और उनके रिश्तेदारो ने नागवा में गुजरात के पर्यटको को दौडा दौडा के पिटने से दीव शहर में सन सन्नी मच गई ।

ये भी पढ़ें-  दानह शिक्षा विभाग द्वारा करोड़ों की खरीद में कमीशन-खोरी की शंका।

घटना इस प्रकार  की है, की दिनाक 27-12-2015 के दिन शाम 5 बजे अहमदावाद  गुजरात के पर्यटको भाविक जी, श्रोफ उनके परिवार के साथ सोमनाथ गुजरात से सिधा दीव महोत्सव-2015  “ फेस्टा दे दीव “  में हिस्सा लेने के लिये आये थे,तब नागवा बिच होटेल कोस्टमार के सामने   कार पारकिंग करते समय रास्ते में अवेध तरिके से  बेठे एक ठेलेवाले से कहा सुनी हो गई बस देखते हि देखते आसपास में रास्ते में अवेध तरिके से  बेठकर  बेच रहे   ठेलेवालो ने  आके  अहमदावाद  गुजरात के पर्यटको के उपर हमला कर दिया, उस में साफ तस्विर में दिखाई दे रही  दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा नागवा और उनके रिश्तेदार जो हमला कर  बुढी  महिला को भी नही बकशा  उनको भी बुरि तरह घायल कर दिया ।

daman news
daman news

पुलिस  जनता की मित्र होती है, पुलिस का कार्य कानून की रखवाली करना और गुन्हा की रोकथाम करना है, नहीं की किसी भी बेबस पर्यटको को पिटना है  । आज हमारा देश महिला ओ की सुरक्षा उने सर्वांगी विकास के बड़े बड़े दावे और आरक्षण की बाते करते है,दुसरी ओर दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा नागवा    पर्यटको एव्म बुढी  महिला  के उपर  हमलाकर  बुरि तरह घायल कर दिया । तस्विर कभी भी जुठ नही बोलोती साफ तस्विर  में  हमलावरो एव्म दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा और उनके रिश्तेदारो दिखाई दे रहे है ।  हमलावरो एव्म दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा और उनके रिश्तेदारो ने नागवा पोलिस थाने में आके जान से मारने की धमकी दी  और  पर्यटक भाविक जी, श्रोफ को थपड भी मारने  से पर्यटको ने अपनी  जान बचाने के लिये   प्रेस मिडीया से मदद मांगी,और पर्यटको ने हमलावरो एव्म दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा और उनके रिश्तेदारो और घायल पर्यटको के  फोटो भी वोट्स ऐप से भेजे  । आखिर कार दीव पोलिस ने  लिखित शिकायत लेके  अहमदावाद  गुजरात के पर्यटको को सुरक्षित दीव की बोर्डर से गुजरात की और रवाना करके अपना फर्ज निभा दिया ।
अब देखना है की, यह वारदात की  लिखित शिकायत पर  जब यह मामला प्रेस मीडिया में उच्लेंगा तब  पोलिस प्रसाशन  क़ानूनी कार्यवाही करने का मन बना लेती  है या पुरे काण्ड को रफा दफा करने में जुड़ जाती है  ।  या  दीव पोलिस महिला होमगार्ड भानु उर्फे  गीता उमेश चावडा नागवा के खिलाफ दमण-दीव,दा,न,ह  पोलिस महानिर्देशक मनिश अग्रवाल  कोई कानुनी कार्यवाही करके निलम्बित करते है  ? ऐसी  कलंकित वारदातो  से  देश विदेश में दीव के खिलाफ गलत सं देश जाता है ।
दीव पोलिस को कोई भी बड़ी वारदात या कोई बड़ी गेंग से भिड़ने का मौका तक नहीं मिलता इसीलिए दीव पोलिस को मात्र दीव का १३ किलोमीटर के क्षेत्र फल होने के नाते बिलकुल आराम की पलो में अपना कीमती वक्त व्यतित करना पड रहा है ।
दीव में रास्ट्पति  प्रणव  मुखर्जी ने  दीव महोत्सव-2015  “ फेस्टा दे दीव “ का उध्घाटन  करके देशी विदेशी पर्यटको आमंत्रित कर के दीव के लोगो की आमदनी एव्म आर्थिक विकास के  भरपुर प्रयासरत रहते  ताकी अपने ही मुल्क में रोजगार का अवसर प्राप्त हो सके । मगर ऐसी  कलंकित वारदातो  से  क्या आनेवाले दिनो में देशी विदेशी पर्यटको की संख्या कम होंगी ?

ये भी पढ़ें-  मोबाइल बाहर रखवार अंदर क्या पैसे मांगे जाते है?

क्या  दीव में  इज्जतदार सुखी संपन्न  पर्यटको की संख्या कम होंगी ?
यह जवाब अब  दमण-दीव,दा,न,ह पोलिस प्रसाशन को  देशी विदेशी पर्यटको देना होंगा और  उनकी  सुरक्षा का भरोसा दिलाना होंगा । और इस  कलंकित घटना के गुन्हेगारो के खिलाफ कडक कानुनी कार्यवाही भी  करनी  होगी तब देश विदेश में दीव में देशी विदेशी पर्यटको की संख्या में बढो तरी होंगी  ।
 Bipin Bamania Diu-Police public -photo script