दानह शिक्षा विभाग द्वारा करोड़ों की खरीद में कमीशन-खोरी की शंका।

DNH Department of Education
DNH Department of Education

दो करोड़ के स्कूल बेग, 8 करोड़ के यूनिफ़ोर्म ओर 2.5 करोड़ के जूते में, कितना कमीशन खाएंगे दानह शिक्षा विभाग के अधिकारी?
दादरा नगर हवेली शिक्षा विभाग द्वारा, दिनांक 19-02-2019 को स्कूल यूनिफ़ोर्म, स्कूल शूज एण्ड सॉक्स, तथा दिनांक 20-02-2019 को स्कूल बेग खरीदने के लिए टेण्डर निकाले गए थे। टेण्डर में एस्टिमेट रकम नहीं है, अब एस्टिमेट रकम क्यो नहीं दिया गया यह तो जांच का विषय है ही वैसे टेण्डर का एस्टिमेट बनाने वाले अधिकारी, टेण्डर खोलने वाले अधिकारी, वर्क आर्डर जारी करने वाले अधिकारी ओर उक्त वस्तुओं की खरीद के बाद भुगतान करने वाले अधिकारी एक ही है या अलग-अलग इसकी भी जांच होनी चाहिए।

बताया जाता है कि स्कूल बेग, यूनिफ़ोम, शूज एण्ड सॉक्स के लिए जो टेण्डर निकाले गए थे, उन तीनों टेण्डर के वर्क आर्डर जारी कर दिए गए है ओर इस बार दानह का शिक्षा विभाग 22298774/- रुपये के स्कूल बेग खरीद रहा है, 86347485/- रुपये के स्कूल यूनिफ़ोम खरीद रहा है ओर 25081153/- रुपये के स्कूल शूज एण्ड सॉक्स खरीद रहा है। यानि कि स्कूल यूनिफ़ोर्म, बेग, शूज एण्ड सॉक्स कि खरीद 133727412 रुपये में की जा रही है।

ये भी पढ़ें-  सांसद मोहन डेलकर ने कहा इस्तीफ़ा दे दूंगा तो पूर्व सांसद ने कहा जनता मांगने वाली ही थी!

वैसे इन तीन टेण्डर के अवाले, अभी ओर भी कई टेण्डर है जिनकी खरीद बाकी बताई जाती है, जिसमे नोट बुक, रेनकोर्ट, स्वेटर आदि है मिली जानकारी के अनुसार यह सब भी करोड़ों की राशि में खरदे जाएंगे। अब जब बात करोड़ों कि खरीद को लेकर है तो उस खरीद प्रक्रिया में प्रशासन को ध्यान देना चाहिए की शिक्षा विभाग के अधिकारी इस खरीद प्रक्रिया में किसी प्रकार का घोटाला तो नहीं कर रहे है? कमीशनखोरी तो नहीं कर रहे? यह सवाल इस लिए भी किया जा रहा है क्यो कि उक्त विभाग के कई अधिकारियों कि खराब कार्यप्रणाली पर पूर्व में सवाल उठते रहे है कई बार उक्त विभाग के अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे है इस लिए अब उक्त विभाग के अधिकारियों पर दादरा नगर हवेली के सतर्कता विभाग को पेनी नज़र रखने की जरूरत है। शेष फिर।