डाक्टर दास पर “सप्लाई” का आरोप सही या गलत ?  इस अधिकारी पर ऐसे आरोप जिनकी वजह से प्रशासन शर्मशार !

भ्रष्टाचार, भाईगीरी, हफ्ता-वसूली और माफियागिरी पर अंकुश लगाने में प्रशासक प्रफुल पटेल भी फैल! | Kranti Bhaskar image 1
VK-DAS-Hindi-news-in-silvassa

अब तक दानह प्रशासन के कई अधिकारियों पर भ्रष्टाचार, अनियमितता, तथा सरकारी विकासनिधि के दुरुपयोग करने के साथ साथ अपने पद का दुरुपयोग करने के भी आरोप लगते रहे है, और अगर आगे भी इस तरह के आरोप लगे तो ना हीं यह जनता के सुनने में कोई नई बात होगी ना ही प्रशासन के लिए! लेकिन अब दानह के एक जिम्मेवार अधिकारी जिनका नाम डाक्टर दास बताया जाता है और जिनके पास दानह विनोबाभावे सिविल अस्पताल के अलावे ना जाने और कितने विभागों का प्रभार है उस डाक्टर पर ऐसे आरोप लग रहे है और ऐसी चर्चाएँ हो रही है जिनके बारे में बात करते हुए शायद कोई भी शर्मशार हो जाएगा।

कोई व्यक्ति अगर आरोप लगाए तो उसे नकारा भी जा सकता है, लेकिन यहाँ तो सेकड़ों है इनकी करतूतें बयान करने के लिए

पिछले लंबे समय से दानह स्वास्थ्य विभाग, खाध विभाग, एवं औषद्धि विभाग के अधिकारी के बारे में जनता एवं दानह के सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ साथ कई अधिकारियों व कर्मचारियों की जुबान से भी सुना गया की यह सप्लाई का काम भी करते है, अब दानह के अधिकारी वी-के दास किस तरह की सप्लाई का काम करते है इस बात की चर्चा तो आम जनता में हो ही रही है, लेकिन चोकाने वाली बात यह है की जनता के साथ साथ अब दानह के सामयिक कार्यकर्ता एवं दानह के सममानीय अधिकारी भी अपने दफ्तर में चाय की कुस्की लेते हुए इस बात की चर्चा करते देखे जा रहे है और जनता द्वारा लगाए गए आरोप और चर्चा को सही ठहरा रहे है, यह बात सही है या नहीं इसकी पुष्टि हम नहीं करते लेकिन क्यों की यह मामला कई विभागों के मुख्या एवं अधिकारी से जुड़ा है तथा उस कुर्सी की मान मरियदा से जुड़ा है तो इस सवाल और चर्चा पर पर्दा डाल कर, इस मामले में हो रही फजीयत को जारी रखना मुनासिब नहीं, बल्कि इस मामले में क्या सच है और क्या झूठ इस बात की पुष्टि करने की जरूरत है।

ये भी पढ़ें-  विधुत विभाग के कनीय अभियंताओं के सहारे भ्रष्टाचार की काली कमाई की लेन-देन.

दानह प्रशासन के वरीय अधिकारियों को चाहिए की इस प्रशासन और उन प्रशासनिक कार्यालयों में रखी कुर्सियों की गरिमा के ख़ातिर इस मामले की टोह ले और यह पता लगाए की जनता का कहना सही है या नहीं ?

ये भी पढ़ें-  दमण में गेंगवार : दमण के अजय पटेल और धीरज पटेल की गोली मार कर हत्या।

हालांकि इस मामले भूचाल की टिम भी अपनी और से ख़ोज-बिन में जुटी है ताकि जनता एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए गए इन आरोपों की हकीकत जनता तथा प्रशासन के सामने ला सके। शेष फिर।