दादरा एवं नगर हवेली में मेडिकल कॉलेज के लिये केंद्रिय मंत्रीमंडल ने मंजूरी दी।

मोहन डेलकर के अवैध कब्जे से आज़ाद कराऊंगा आदिवासी भवन : सांसद नटुभाई पटेल | Kranti Bhaskar image 1
Nattu Patel Silvassa

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने गुरूवार को केन्‍द्र शासित प्रदेश दादरा एवं नगर हवेली के सिलवासा में एक मेडिकल कॉलेज की स्‍थापना को मंजूरी प्रदान कर दी । प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी जी की अध्‍यक्षता में हुई केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई । दादरा एवं नगर हवेली एवं दमन-दिव प्रशासन ने सिलवासा में मेडिकल कॉलेज की स्‍थापना के लिए दो वर्षों में 189 करोड़ रुपये की धनराशि निर्धारित की है । 2018-19 के लिए 114 करोड़ रूपये और 2019-20 के लिए 75 करोड़ रुपये। इसमें प्रतिवर्ष 150 छात्रों का नामांकन होगा।

ये भी पढ़ें-  दमन-दीव व दानह की जनता को विकास से अधिक नोकरी की आवश्यकता!

यह परियोजना 2019-20 तक पूरी हो जाएगी और इसका निर्माण एवं परिव्‍यय भारतीय चिकित्‍सा परिषद (एमसीआई) के नियमों तथा स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के अनुरूप किया जाएगा। मेडिकल कॉलेज का वार्षिक परिव्‍यय केन्‍द्र शासित प्रदेश के बजट प्रावधानों के अंतर्गत संचालित किया जाएगा। इस मंजूरी से चिकित्‍सकों की उपलब्‍धता में वृद्धि होगी तथा चिकित्‍सकों की कमी की समस्‍या में भी कमी आएगी। इसके साथ ही दादरा नगर हवेली एवं दमन-दिव केन्‍द्र शासित प्रदेशों के छात्रों के लिए मेडिकल शिक्षा प्राप्‍त करने के अवसरों में वृद्धि होगी। इससे जिला स्‍तर के अस्‍पतालों की अवसंरचना का अधिकतम उपयोग होगा और दोनों केन्‍द्र शासित प्रदेशों तथा समीपवर्ती क्षेत्रों के लोगों के लिए तीसरे स्‍तर की मेडिकल सुविधा बेहतर होगी। इस मेडिकल कॉलेज से दोनों केन्‍द्र शासित प्रदेशों के जनजातीय व ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को लाभ होगा, जिससे सामाजिक समानता को प्रोत्‍साहन मिलेगा। केन्‍द्र शासित प्रदेशों में चिकित्‍सकों की संख्‍या में वृद्धि से बेहतर मेडिकल सुविधाएं मिलेगी।

ये भी पढ़ें-  अब यदि एक ओपन-हाउस हफ्ता-खोरों पर लगाम के लिए भी हो जाए, तो दमन हफ्ता-मुक्त प्रदेश बन जाए।

इस अलौकिक परियोजना के लिए सांसद नटुभाई पटेल एवं दानह भाजपा द्वारा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी, श्री अमीत शाह जी, श्री राजनाथ सिंह जी एवं संघ प्रदेश के प्रशासक श्री प्रफुलभाई पटेल का आभार व्यक्त किया गया।