अब गृह मंत्रालय कभी भी कर सकती है विधुत विभाग में हुए घोटालों की जांच!

Lalu-MP
Lalu-MP

जल्द गृह मंत्रालय दमन-दीव प्रशासक से मांगेंगे मामले की रिपोर्ट।

संध प्रदेश दमन-दीव विधुत विभाग में हुए घोटाले को लेकर क्रांति भास्कर ने कई खुलासे किए, जिसके बाद तत्कालीन प्रशासक बी-एस भल्ला ने विभाग के कार्यपालक अभियंता मिलिंद इंगले से प्रभार लेकर, कार्यपालक अभियंता का प्रभार विशंभर सिंह को दे दिया, लेकिन तत्कालीन प्रशासक बी-एस भल्ला के तबादले के बाद, प्रशासक आशीष कुन्द्रा व विधुत सचिव संदीप कुमार ने उक्त विभाग का प्रभार पुनः मिलिंद इंगले को दे दिया।

 

इस मामले में प्रशासन के किन किन अधिकारियों के निजी हीत जुड़े हुए है, और किन किन अधिकारियों की भूमिका अब तक विधुत विभाग की जांच के रोड़ा बनी रही है, यह सवाल जब गृह मंत्रालय के निदेशक श्री रेड्डी से किया गया तो उन्होने विधुत सचिव संदीप कुमार के तबादले का दिन तय कर दिया। हालांकि दमन विधुत विभाग में हुए घोटाले व अभियंताओं की संपत्ति को लेकर गृह मंत्रालय के सतर्कता विभाग के अधिकारियों से यह सवाल भी किया गया की आखिर इस विभाग की जांच में कोन रोड़ा बना है, और इस विभाग की जांच क्यों नहीं होती, तथा अब तक इस विभाग के भ्रष्टाचार को लेकर कितनी शिकायते लंबित है व उन शिकायतों पर प्रशासक क्यों कार्यवाई नहीं करते, इन सवालों को सुनकर गृह मंत्रालय के सतर्कता विभाग के अधिकारी भी भोच्चके रह गए, लेकिन सतर्कता विभाग के अधिकारियों ने यह आश्वासन अवश्य दिया की अब गृह मंत्रालय दमन-दीव विधुत विभाग के संबंध में हुई तमाम शिकायतों की रिपोर्ट दमन प्रशासन व प्रशासक से माँगेगी। गृह मंत्रालय में बैठे सतर्कता विभाग के अधिकारियों ने यह जवाब तो दे दिया लेकिन अब उनके रिपोर्ट माँगने के बाद दमन प्रशासन के विधुत सचिव संदीप कुमार व प्रशासक आशीष कुन्द्रा क्या रिपोर्ट देते है।

संयुक्त गृह सचिव आर-के सिंह, मुख्य सतर्कता अधिकारी श्री सतपाल चोहान तथा निदेशक श्री धर्मा रेड्डी, इन तीनों अधिकारियों से पूछे गए, दमन विधुत विभाग को लेकर तीखे सवाल।   

श्री धर्मा रेड्डी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए क्रांति भास्कर के सवालों के प्रतिउत्तर में विधुत सचिव संदीप कुमार का तबादला तो कर दिया, लेकिन इस मामले की असली कहानी तब बाहर आएगी, जब श्री रेड्डी दमन विधुत विभाग में हुए घोटालों की जांच शुरू करेंगे। हालांकि विधुत विभाग की जांच के लिए क्रांति भास्कर ने गृह मंत्रालय के यू-टी खंड के संयुक्त गृह सचिव श्री आर के सिंह से भी बात की और मुख्य सतर्कता अधिकारी श्री सतपाल चोहान से भी, इन दोनों वरीय अधिकारियों ने बताया की मामले की जांच होगी।

ये भी पढ़ें-  केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री की उपस्थिति में दानह भाजपा की बैठक सम्पन्न

गृह मंत्रालय संज्ञान लेकर जारी किया, विधुत सचिव संदीप कुमार के तबादले का आदेश।